Home   »   अमित शाह ने खादी माटीकला महोत्सव...

अमित शाह ने खादी माटीकला महोत्सव का किया उद्घाटन

अमित शाह ने खादी माटीकला महोत्सव का किया उद्घाटन |_30.1

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह अहमदाबाद में खादी माटी कला महोत्सव 2023 में शामिल हुए। कार्यक्रम का आयोजन अहमदाबाद के सायंस सिटी में खादी और ग्रामोद्योग आयोग द्वारा कराया गया था। ‘खादी माटी कला महोत्सव-2023’ का उद्धाटन भी गृहमंत्री अमित शाह ने किया।

इस अवसर पर 300 कुम्हारों को विद्युत चालित चाक, 200 खादी कारीगरों को देशी चरखा, 100 लाभार्थियों को टूलकिट्स एवं मशीनरी, पीएमईजीपी के अंतर्गत देशभर के 4458 लाभार्थियों को 200 करोड़ रुपये की मार्जिन मनी सब्सिडी, केरल के कुट्टूर में नवीनीकृत केंद्रीय पूनी संयंत्र (सीएसपी)और अहमदाबाद में नवनिर्मित 8 डाकघरों का ऑनलाइन माध्यम से उद्घाटन किया।

 

9.50 लाख से अधिक नए रोजगार का सृजन

माटी कला महोत्सव 2023 के संबोधन में अमित शाह ने अलग अलग योजनाओं से फायदा पाए लोगों का अभिनंदन किया। अमित शाह ने कहा कि खादी माटी कला महोत्सव बहुआयामी विचार है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘वोकल फॉर लोकल’और ‘आत्मनिर्भर भारत’ मंत्र ने खादी को वैश्विक मंच पर पहचान दिलाई है।

पिछले 9 वर्षों में खादी और ग्रामोद्योगी उत्पादों का कारोबार 1.34 लाख करोड़ रुपये के आंकड़े को पार कर गया है, जबकि इस दौरान 9.50 लाख से अधिक नये रोजगार का सृजन हुआ है। खादी और ग्रामोद्योग आयोग ग्रामीण भारत की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। ग्रामोद्योग विकास योजना के अंतर्गत केवीआईसी ने अभी तक 27 हजार से अधिक कुम्हार भाइयों और बहनों को विद्युत चालित चाक का वितरण किया है, जिससे 1 लाख से अधिक कुम्हारों के जीवन में बड़ा बदलाव आया है।

 

गुजरात के 449 लाभार्थियों के खाते में आए 51 करोड़ रुपये

अमित शाह ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के अंतर्गत देशभर के 4458 लाभार्थियों को 200 करोड़ रुपये की मार्जिन मनी सब्सिडी का वितरण किया गया है, जिसके माध्यम से करीब 49 हजार से अधिक नये रोजगार का सृजन हुआ है। 200 करोड़ रूपये में से 51 करोड़ रुपये की सब्सिडी गुजरात के 449 लाभार्थियों के खाते में संवितरित की गई है, जिससे गुजरात में 4939 नये लोगों को रोजगार मिला है।

 

डाकघर की पहल

शाह ने आठ नवनिर्मित डाकघरों के उद्घाटन की घोषणा की, जो मेल और पार्सल बुकिंग, आधार सेवाएं, बैंकिंग डाक सेवाएं, जीवन बीमा, ग्रामीण डाक जीवन बीमा और पेंशनभोगियों के लिए डिजिटल प्रमाणपत्र जैसी विभिन्न सेवाएं प्रदान करते हैं। इस कदम का उद्देश्य गांधीनगर क्षेत्र के निवासियों के लिए पहुंच और सुविधा बढ़ाना है।

 

खादी का आर्थिक प्रभाव

केंद्रीय गृह मंत्री ने पिछले नौ वर्षों में खादी ग्रामोद्योग की प्रभावशाली प्रगति को साझा किया और इस सफलता का श्रेय प्रधानमंत्री मोदी की खादी को प्राथमिकता देने को दिया। वित्त वर्ष 2022-23 में खादी का कुल कारोबार 1,35,000 करोड़ रुपये से अधिक हो गया है, जिससे एक लाख लोगों के जीवन पर सकारात्मक प्रभाव पड़ा है।

 

परीक्षा से सम्बंधित महत्वपूर्ण प्रश्न

Q. जैसा कि अमित शाह ने उल्लेख किया है, खादी की उत्पत्ति से कौन सा ऐतिहासिक व्यक्ति जुड़ा हुआ है?

उत्तर: महात्मा गांधी।

Q. अमित शाह के अनुसार महात्मा गांधी ने खादी को स्वतंत्रता आंदोलन से कैसे जोड़ा?

उत्तर: गांधी जी ने गरीब व्यक्तियों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए खादी को स्वतंत्रता आंदोलन से जोड़ा।

Q. खादी माटी कला महोत्सव के दौरान कौन से आवश्यक उपकरण और उपकरण वितरित किए गए?

उत्तर: इलेक्ट्रिक कुम्हार पहिए, कृषि आधारित खाद्य प्रसंस्करण उद्योग टूल किट, अगरबत्ती बनाने की मशीनें, प्लंबिंग किट और पारंपरिक चरखे।

 

अमित शाह ने खादी माटीकला महोत्सव का किया उद्घाटन |_40.1

FAQs

राष्ट्रीय हथकरघा दिवस कब मनाया जाता है?

हर साल 7 अगस्त के दिन राष्ट्रीय हथकरघा दिवस (National Handloom Day 2022) मनाया जाता है.