Home   »   प्रधानमंत्री का COVID -19 महामारी से...

प्रधानमंत्री का COVID -19 महामारी से लड़ने के लिए देश को संबोधन

प्रधानमंत्री का COVID -19 महामारी से लड़ने के लिए देश को संबोधन |_50.1
आज पूरी दुनिया प्रकोप बन चुके COVID-19 महामारी से लड़ रही है, जो दिनों दिन भारत में भी अपने पाँव पसारती जा रही है इसी समस्या को ध्यान में रखते हुए प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने 19 मार्च शाम को देशवासियों को संबोधित किया, जिसमे सभी भारतीयों से अपील की गई कि COVID-19 को रोकने के लिए जितना संभव हो सके लोग घर के अंदर ही रहें। 
उनके संबोधित के कुछ मुख्य अंश इस प्रकार हैं:
  • उन्होंने कहा कि इस तरह की वैश्विक महामारी में, एक ही मंत्र काम करता है- “हम स्वस्थ तो जग स्वस्थ” क्योंकि यदि हम स्वस्थ रहेंगे तो दुनिया स्वस्थ रहेगी। उन्होंने देशवासियों से भीड़-भाड़ और सभाओं से दूर रहने और घरों से बाहर निकलने से बचने की अपील की। आजकल जिसे Social Distancing कहा जा रहा है, जो कोरोना वैश्विक महामारी के इस दौर में बहुत ज्यादा आवश्यक है।
  • उन्होंने सभी भारतीयों से अनुरोध किया कि वे अगले कुछ हफ्तों तक जब तक बहुत जरुरी न हो अपने घरों से बाहर न निकलें।
  • इसके अलावा उन्होंने राष्ट्र के लिए अपने संबोधन के दौरान एक शब्द “जनता कर्फ्यू” का उपयोग किया जिसका अर्थ है जनता के लिए,जनता द्वारा खुद पर लगाया गया कर्फ्यू। “जनता कर्फ्यू” 22 मार्च को, सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक लगाया जाएगा। साथ ही उन्होंने NCC,NSS,से जुड़े युवाओं,देश के हर युवा,सिविल सोसायटी,हर प्रकार के संगठन,इन सभी से भी अनुरोध किया कि वे अभी से लेकर अगले दो दिन तक सभी को जनता-कर्फ्यू के बारे में जागरूक करें।
  • उन्होंने यह भी घोषणा की कि कोरोना महामारी से उत्पन्न हो रही आर्थिक चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए, वित्त मंत्री के नेतृत्व में सरकार ने एक कोविड-19-Economic Response Task Force के गठन का फैसला लिया है। ये टास्क फोर्स,ये सुनिश्चित करेगी कि, आर्थिक मुश्किलों को कम करने के लिए जितने भी कदम उठाए जाएं,उन पर प्रभावी रूप से अमल हो।
Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

TOPICS:

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *