Home   »   राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने किया गुजरात...

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने किया गुजरात विधानसभा के डिजिटल हाउस का उद्घाटन

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने किया गुजरात विधानसभा के डिजिटल हाउस का उद्घाटन |_3.1
FILE PHOTO- Droupadi Murmu

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने गांधीनगर में गुजरात विधानसभा की डिजिटल हाउस प्रोजेक्ट, नेशनल ई-विधान एप्लिकेशन (एनईवीए) का आधिकारिक तौर पर अनावरण किया। शुभारंभ समारोह में गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत और मुख्यमंत्री भूपेंद्रभाई पटेल भी मौजूद थे। यह प्रयास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ‘वन नेशन, वन एप्लीकेशन’ की दूरदर्शी अवधारणा से प्रेरणा लेता है और पूरी तरह से पेपरलेस विधानसभा प्रक्रिया को प्राप्त करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम का प्रतीक है।

राष्ट्रीय ई-विधान एप्लिकेशन (NeVA), एक यूनिकोड-अनुपालन सॉफ्टवेयर, केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्रालय द्वारा नागरिकों और विधानसभा सदस्यों दोनों के लिए सभी विधायी कार्य और डेटा ऑनलाइन उपलब्ध कराने के प्राथमिक लक्ष्य के साथ विकसित किया गया है। एनईवीए में एक उपयोगकर्ता के अनुकूल वेबसाइट और एक मोबाइल ऐप शामिल है, जो प्रश्नों की सूची, व्यावसायिक एजेंडा और रिपोर्ट सहित दस्तावेजों की अधिकता तक पहुंच को सरल बनाता है।

अब तक, 21 राज्य विधानसभाओं ने औपचारिक रूप से एनईवीए के कार्यान्वयन के लिए समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं। प्रभावशाली रूप से, परियोजना को 17 विधानसभाओं के लिए मंजूरी दी गई है, इसके कार्यान्वयन के लिए आसानी से धन आवंटित किया गया है। इनमें से, नौ विधायिकाओं ने पहले से ही पूरी तरह से डिजिटल और पेपरलेस मोड में संक्रमण कर लिया है, जो सक्रिय रूप से एनईवीए प्लेटफॉर्म पर अपने सभी विधायी कार्यों का संचालन कर रहे हैं।

डिजिटल होने के लाभ: शासन को परिवर्तित करना

NeVA के अवगमन से कई लाभ सामने आते हैं:

  • पर्यावरण संरक्षण: पेपरलेस विधायिका प्रक्रिया की ओर बढ़ता जाना पेपर की उपभोक्ति को काफी कम करता है, जिससे पर्यावरण के लिए सस्टेनेबिलिटी में योगदान होता है।
  • बेहतर पहुंच: NeVA से विधायिका सूचना को नागरिकों और विधानसभा सदस्यों दोनों के लिए आसानी से पहुंचने में मदद मिलती है, जिससे पारदर्शिता और जवाबदेही को बढ़ावा मिलता है।
  • कुशलता और उत्पादकता: डिजिटल प्लेटफ़ॉर्म विधायिका प्रक्रियाओं को संरेखित करता है, प्रशासनिक बाधाओं को कम करता है और समग्र उत्पादकता को बढ़ावा देता है।
  • लागत में बचत: कम पेपर का उपयोग और संविदानिक प्रक्रियाओं की संरेखण से सरकार समय के साथ लागत में बचत कर सकती है।
  • रियल-टाइम अपडेट: NeVA वास्तविक समय में अपडेट और सूचनाएं प्रदान करता है, जिससे सदस्य हमेशा नवीनतम विकासों के बारे में सूचित रहते हैं।
  • सुरक्षित डेटा हैंडलिंग: इस सॉफ़्टवेयर में संविधायिका डेटा की संवेदनशीलता को सुरक्षित रखने के लिए मजबूत सुरक्षा उपाय शामिल हैं।

NeVA की मूल अवधारणा प्रधानमंत्री मोदी के ‘वन नेशन, वन एप्लिकेशन’ के दृष्टिकोण के साथ पूरी तरह से मेल खाती है। इस दृष्टिकोण का उद्देश्य ‘क्लाउड फर्स्ट’ और ‘मोबाइल फर्स्ट’ दृष्टिकोण को प्राथमिकता देना है, जिसमें सदस्यों की सेवा पर प्राथमिक ध्यान केंद्रित किया गया है। प्रधानमंत्री मोदी ने शुरू में नवंबर 2021 में ‘वन नेशन, वन लेजिस्लेटिव प्लेटफॉर्म’ के विचार का प्रस्ताव रखा था, जिसमें पूरे देश में निर्बाध डिजिटल एकीकरण की आवश्यकता पर जोर दिया गया था।

 

President Droupadi Murmu Inaugurates Digital House Of Gujarat Assembly_90.1

 

FAQs

किसने गांधीनगर में गुजरात विधानसभा की डिजिटल हाउस प्रोजेक्ट, नेशनल ई-विधान एप्लिकेशन (एनईवीए) का आधिकारिक तौर पर अनावरण किया?

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने गांधीनगर में गुजरात विधानसभा की डिजिटल हाउस प्रोजेक्ट, नेशनल ई-विधान एप्लिकेशन (एनईवीए) का आधिकारिक तौर पर अनावरण किया।