Home   »   प्रवीण कुमार श्रीवास्तव ने नये सीवीसी...

प्रवीण कुमार श्रीवास्तव ने नये सीवीसी के रूप में ली शपथ

प्रवीण कुमार श्रीवास्तव ने नये सीवीसी के रूप में ली शपथ |_30.1

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने सतर्कता आयुक्त प्रवीण कुमार श्रीवास्तव को 29 मई को केंद्रीय सतर्कता आयुक्त (सीवीसी) पद की शपथ दिलाई। राष्ट्रपति भवन से जारी एक बयान में यह जानकारी दी गई। श्रीवास्तव केंद्रीय सतर्कता आयुक्त के पद पर सुरेश एन पटेल का कार्यकाल पूरा होने के बाद पिछले साल दिसंबर से कार्यवाहक केंद्रीय सतर्कता आयुक्त (सीवीसी) के तौर पर काम कर रहे थे।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

केंद्रीय सतर्कता आयोग में सतर्कता आयुक्त का एक पद रिक्त है। फिलहाल निकाय में पूर्व खुफिया ब्यूरो प्रमुख अरविंद कुमार एकमात्र सतर्कता आयुक्त हैं। श्रीवास्तव, असम-मेघालय कैडर के 1988-बैच (सेवानिवृत्त) के भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) अधिकारी हैं। वह पिछले साल 31 जनवरी को सचिव (समन्वय), कैबिनेट सचिवालय के पद से सेवानिवृत्त हुए थे।

 

गृह मंत्रालय में विशेष सचिव और अतिरिक्त सचिव के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान, उन्होंने भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के कैडर प्रबंधन, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों और केंद्र शासित प्रदेशों के कर्मियों और सामान्य प्रशासन से संबंधित मामलों का प्रबंधन किया था। केंद्रीय सर्तकता आयुक्त और सतर्कता आयुक्त का कार्यकाल चार वर्ष या पदधारी व्यक्ति के 65 वर्ष की आयु पूरा होने तक का होता है।

श्रीवास्तव ने वाणिज्य विभाग के निदेशक/उप सचिव के रूप में विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) के तहत सेवाओं में व्यापार से संबंधित वार्ताओं में सरकार की सहायता की थी। उन्होंने राइट्स लिमिटेड में मुख्य सतर्कता अधिकारी और जवाहरलाल नेहरू राष्ट्रीय शहरी नवीकरण मिशन (जेएनएनयूआरएम) के संयुक्त सचिव और मिशन निदेशक के रूप में भी कार्य किया।

Find More Appointments Here

 

प्रवीण कुमार श्रीवास्तव ने नये सीवीसी के रूप में ली शपथ |_40.1

FAQs

केंद्रीय सतर्कता आयोग की स्थापना कब की गई थी?

भारत का केन्द्रीय सतर्कता आयोग (Central Vigilance Commission) भारत सरकार के विभिन्न विभागों के अधिकारियों/कर्मचारियों से सम्बन्धित भ्रष्टाचार नियंत्रण की सर्वोच्च संस्था है। इसकी स्थापना साल 1964 में की गयी थी।