Home   »   अक्टूबर में विनिर्माण क्षेत्र की गतिविधि...

अक्टूबर में विनिर्माण क्षेत्र की गतिविधि आठ महीने के निचले स्तर पर: PMI

अक्टूबर में विनिर्माण क्षेत्र की गतिविधि आठ महीने के निचले स्तर पर: PMI_3.1

भारत में विनिर्माण गतिविधियां अक्टूबर महीने में आठ महीने के निचले स्तर पर रहीं। 01 नवंबर को जारी एक मासिक सर्वेक्षण के अनुसार नए ऑर्डर में नरमी से उत्पादन वृद्धि में कमी दर्ज की गई। मौसमी रूप से समायोजित एसएंडपी ग्लोबल इंडिया विनिर्माण खरीद प्रबंधक सूचकांक (पीएमआई) अक्टूबर में गिरकर 55.5 पर आ गया, जो सितंबर में 57.5 था। अक्टूबर में यह आठ महीने के निचले स्तर पर रहा।

अक्टूबर पीएमआई डेटा ने लगातार 28वें महीने परिचालन स्थितियों में सुधार की ओर इशारा किया है। पीएमआई की भाषा में अगर 50 से ऊपर प्रिंट का मतलब विस्तार होता है, जबकि 50 से नीचे का स्कोर संकुचन को दर्शाता है। एसएंडपी ग्लोबल मार्केट इंटेलिजेंस में अर्थशास्त्र एसोसिएट निदेशक पॉलियाना डी लीमा ने कहा कि नया ऑर्डर सूचकांक एक साल के निचले स्तर पर फिसल गया। कुछ कंपनियों ने अपने उत्पादों की मौजूदा मांग को लेकर चिंता जाहिर की है।

 

कुल नए ऑर्डर

सर्वेक्षण के अनुसार कुल नए ऑर्डर, उत्पादन, निर्यात, खरीदारी के स्तर तथा खरीद में धीमी ही सही, पर्याप्त बढ़ोतरी हुई। नियुक्ति गतिविधि फीकी पड़ गई और कारोबारी विश्वास पांच महीने के निचले स्तर पर पहुंच गई।

 

सितंबर के बाद से वृद्धि में गिरावट

सर्वेक्षण के अनुसार, अक्टूबर के आंकड़ों ने सितंबर के बाद से वृद्धि में गिरावट का संकेत है। वास्तविक सबूतों से पता चलता है कि कुछ उत्पादों की धीमी मांग और भयंकर प्रतिस्पर्धा ने तेजी को रोक दिया है। रोजगार सृजन की दर मामूली और अप्रैल के बाद से सबसे धीमी है। कीमतों की बात करें तो लागत दबाव बढ़ा है, जबकि ‘आउटपुट’ मूल्य मुद्रास्फीति कम हो गई।

 

Find More News on Economy Here

 

अक्टूबर में विनिर्माण क्षेत्र की गतिविधि आठ महीने के निचले स्तर पर: PMI_4.1

FAQs

पीएमआई का उद्देश्य क्या है?

पीएमआई का उद्देश्य कंपनी के निर्णय निर्माताओं, विश्लेषकों और निवेशकों को किसी व्यवसाय की वर्तमान और भविष्य की स्थितियों के बारे में जानकारी प्रदान करना है।