Home   »   प्रधानमंत्री मोदी ने तमिलनाडु में 20,000...

प्रधानमंत्री मोदी ने तमिलनाडु में 20,000 करोड़ रुपये से अधिक की विकास परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया

प्रधानमंत्री मोदी ने तमिलनाडु में 20,000 करोड़ रुपये से अधिक की विकास परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया |_30.1

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली में 20,000 करोड़ रुपये से अधिक की विकास परियोजनाओं की आधारशिला रखी। परियोजनाओं में रेल कनेक्टिविटी, सड़क, तेल और गैस और शिपिंग सहित विभिन्न क्षेत्र शामिल हैं, और राज्य की प्रगति में महत्वपूर्ण योगदान देने के लिए तैयार हैं।

 

तमिलनाडु के बुनियादी ढांचे को मजबूत करना

प्रधान मंत्री ने इस बात पर प्रकाश डाला कि ये परियोजनाएं न केवल तमिलनाडु के बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के लिए अभिन्न अंग हैं, बल्कि प्रगति को बढ़ावा देने, हजारों लोगों के लिए रोजगार के अवसर पैदा करने और यात्रा सुविधाओं को बढ़ाने में भी सहायक हैं। उन्होंने विकास के प्रति समर्पण और दृढ़ता के लिए राज्य के लोगों को बधाई दी।

 

तमिलनाडु समृद्धि और संस्कृति के प्रतीक के रूप में

तमिलनाडु के महत्व पर जोर देते हुए, मोदी ने भारत की समृद्धि और संस्कृति के प्रतिबिंब के रूप में इसकी भूमिका पर प्रकाश डाला। उन्होंने प्राचीन तमिल भाषा और संत तिरुवल्लुवर, सुब्रमण्यम भारती और वैज्ञानिक विद्वान सी वी रमन जैसी उल्लेखनीय हस्तियों को तमिलनाडु की बौद्धिक विरासत का अभिन्न अंग बताते हुए राज्य की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत की प्रशंसा की।

 

प्रमुख उद्घाटन और शिलान्यास

प्रधान मंत्री मोदी ने 1100 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से विकसित तिरुचिरापल्ली अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर एक नए टर्मिनल भवन सहित कई प्रमुख परियोजनाओं का उद्घाटन किया। अत्याधुनिक टर्मिनल का लक्ष्य सालाना 4.4 मिलियन से अधिक यात्रियों को सेवा प्रदान करना है, जिससे क्षेत्र की हवाई कनेक्टिविटी में उल्लेखनीय वृद्धि होगी।

 

रेल संपर्क बढ़ाना

राष्ट्र को समर्पित रेलवे परियोजनाओं में सलेम-मैग्नेसाइट जंक्शन-ओमालूर-मेट्टूर बांध खंड और मदुरै-तूतीकोरिन रेल लाइन का दोहरीकरण शामिल है। इसके अतिरिक्त, रेल लाइन विद्युतीकरण के लिए तीन परियोजनाओं का अनावरण किया गया, जो रेलवे नेटवर्क की क्षमता बढ़ाने और तमिलनाडु में आर्थिक विकास और रोजगार सृजन में योगदान देने का वादा करती हैं।

 

प्रधान मंत्री मोदी की सड़क अवसंरचना पहल

सड़क बुनियादी ढांचे के मोर्चे पर, प्रधान मंत्री मोदी ने पांच सड़क परियोजनाओं को समर्पित किया और अन्य की आधारशिला रखी। उनमें से उल्लेखनीय है मुगैयुर से मरक्कनम तक 31 किलोमीटर लंबी चार-लेन सड़क का निर्माण, जिसका उद्देश्य तमिलनाडु के पूर्वी तट पर बंदरगाहों और कलपक्कम परमाणु ऊर्जा संयंत्र से कनेक्टिविटी में सुधार करना है।

 

प्रधानमंत्री मोदी ने तमिलनाडु में 20,000 करोड़ रुपये से अधिक की विकास परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया |_40.1

FAQs

परमाणु संयंत्र का जनक कौन है?

होमी जहांगीर भाभा भारत के एक प्रमुख वैज्ञानिक और स्वप्नदृष्टा थे जिन्होंने भारत के परमाणु ऊर्जा कार्यक्रम की कल्पना की थी।