Home   »   प्रधानमंत्री मोदी ने एशिया की सबसे...

प्रधानमंत्री मोदी ने एशिया की सबसे बड़ी हेलीकॉप्टर फैक्ट्री को किया देश को समर्पित

प्रधानमंत्री मोदी ने एशिया की सबसे बड़ी हेलीकॉप्टर फैक्ट्री को किया देश को समर्पित |_30.1

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कर्नाटक की अपनी यात्रा के दौरान तुमकुरु में हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) के हेलीकॉप्टर कारखाने को देश को समर्पित किया। पीएम मोदी ने इस दौरान तुमकुरु में ही लाइट यूटिलिटी हेलीकॉप्टर का भी अनावरण किया। इस मौके पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और सीएम बसवराज बोम्मई मौजूद रहे।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

प्रधानमंत्री ने 12 जनवरी को हुबली की यात्रा की थी और राष्ट्रीय युवा महोत्सव का उद्धाटन किया था। बाद में 19 जनवरी को उन्होंने यादगिरी और कलबुर्गी जिलों में रोड शो किया था जहां उन्होंने विकास एवं समाज कल्याण कार्यक्रमों का प्रदर्शन कर मतदाताओं को लुभाने का प्रयास किया, जिससे सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को अप्रैल-मई में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए एक ‘लॉन्चपैड’ मिल गया।

 

बता दें कि यह फैक्ट्री हर साल लगभग 30 हेलीकाप्टरों का निर्माण करेगी और इसे चरणबद्ध तरीके से 60 और फिर 90 प्रति वर्ष तक बढ़ाया जा सकता है। पहले एलयूएच का उड़ान परीक्षण किया जा चुका है। लाइट कॉम्बैट हेलीकॉप्टर (एलसीएच) और भारतीय मल्टीरोल हेलीकॉप्टर (आईएमआरएच) जैसे अन्य हेलीकॉप्टरों का निर्माण करने के लिए फैक्ट्री में वृद्धि की जाएगी।

 

2016 में रखी थी आधारशिला

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दोपहर में तुमकुरु में जिस एचएएल हेलीकॉप्टर फैक्ट्री का उद्घाटन किया इसकी आधारशिला 2016 में प्रधानमंत्री ने ही रखी थी। यह एक समर्पित ग्रीनफील्ड हेलीकॉप्टर कारखाना है जो हेलीकॉप्टर बनाने की क्षमता और इसके अनुकूल तंत्र को बढ़ावा देगा।

यह हेलीकॉप्टर फैक्ट्री एशिया की सबसे बड़ी हेलीकॉप्टर निर्माण सुविधा है और शुरुआत में लाइट यूटिलिटी हेलीकॉप्टर (एलयूएच) का उत्पादन करेगी। लाइट कॉम्बैट हेलीकॉप्टर (एलसीएच) और इंडियन मल्टीरोल हेलीकॉप्टर (आईएमआरएच) जैसे अन्य हेलीकॉप्टरों के निर्माण के साथ भविष्य में एलसीएच, एलयूएच, सिविल एएलएच एवं आईएमआरएच की मरम्मत के लिए फैक्ट्री का विस्तार किया जाएगा।

फैक्ट्री में भविष्य में सिविल एलयूएच के निर्यात की भी संभावना है। इस केंद्र से भारत हेलीकॉप्टरों की अपनी संपूर्ण आवश्यकता को स्वदेशी रूप से पूरा करने में सक्षम बन जाएगा और हेलीकॉप्टर डिजाइन, विकास और निर्माण में आत्मनिर्भरता का गौरव प्राप्त करेगा।

Find More Defence News Here

प्रधानमंत्री मोदी ने एशिया की सबसे बड़ी हेलीकॉप्टर फैक्ट्री को किया देश को समर्पित |_40.1

FAQs

एशिया में कितने देश आते हैं?

एशिया को 48 देशों में विभाजित किया गया है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *