Home   »   पीएम मोदी ने अयोध्या में 2...

पीएम मोदी ने अयोध्या में 2 नई अमृत भारत, 6 वंदे भारत ट्रेनों का उद्घाटन किया

पीएम मोदी ने अयोध्या में 2 नई अमृत भारत, 6 वंदे भारत ट्रेनों का उद्घाटन किया |_30.1

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को पुनर्विकसित अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन से दो अमृत भारत और छह वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेनों को हरी झंडी दिखाकर एक महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को पुनर्विकसित अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन से दो अमृत भारत और छह वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेनों को हरी झंडी दिखाकर एक महत्वपूर्ण घटना को चिह्नित किया। यह महत्वपूर्ण उपलब्धि 22 जनवरी, 2024 को भव्य राम मंदिर के आगामी अभिषेक के साथ, अयोध्या में उत्सव के माहौल के बीच हाइल की गई।

अमृत भारत एक्सप्रेस: एक नई उपलब्धि

अमृत भारत एक्सप्रेस एलएचबी पुश-पुल तकनीक की विशिष्ट विशेषता के साथ सुपरफास्ट यात्री ट्रेनों की एक नई श्रेणी पेश करती है। विशेष रूप से, ये ट्रेनें गैर-वातानुकूलित कोचों के साथ दक्षता को प्राथमिकता देती हैं। दोनों छोर पर लोको बेहतर त्वरण में योगदान करते हैं, जबकि यात्रियों को खूबसूरती से डिजाइन की गई सीटें, बेहतर सामान रैक, मोबाइल चार्जिंग पॉइंट, एलईडी लाइट्स, सीसीटीवी निगरानी और एक सार्वजनिक सूचना प्रणाली जैसी उन्नत सुविधाओं का आनंद मिलता है।

अमृत भारत ट्रेन मार्गों में शामिल हैं:

  • अयोध्या अमृत भारत एक्सप्रेस के माध्यम से दरभंगा से दिल्ली के आनंद विहार टर्मिनल तक
  • मालदा टाउन से बेंगलुरु (सर एम. विश्वेश्वरैया टर्मिनल) अमृत भारत एक्सप्रेस

वंदे भारत एक्सप्रेस का विस्तार

कार्यक्रम के दौरान देश भर के प्रमुख गंतव्यों को जोड़ने वाली छह वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेनों को हरी झंडी दिखाई गई। नव उद्घाटन मार्गों में शामिल हैं:

  • श्री माता वैष्णो देवी कटरा-नई दिल्ली वंदे भारत एक्सप्रेस
  • अमृतसर- दिल्ली जंक्शन वंदे भारत एक्सप्रेस
  • कोयंबटूर-बेंगलुरु वंदे भारत एक्सप्रेस
  • जालना-मुंबई (सीएसएमटी) वंदे भारत एक्सप्रेस
  • अयोध्या-आनंद विहार टर्मिनल दिल्ली वंदे भारत एक्सप्रेस
  • मंगलुरु-मडगांव गोवा वंदे भारत एक्सप्रेस

रेलवे अवसंरचना विकास

ट्रेन उद्घाटन के अलावा, प्रधान मंत्री मोदी ने क्षेत्र में रेल बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के लिए ₹2,300 करोड़ की तीन रेलवे परियोजनाएं समर्पित कीं। इन परियोजनाओं में रूमा चकेरी-चंदेरी तीसरी लाइन परियोजना, जौनपुर-अयोध्या-बाराबंकी दोहरीकरण परियोजना के विभिन्न खंड और मल्हौर-डालीगंज रेलवे खंड का दोहरीकरण और विद्युतीकरण परियोजना शामिल है।

जालना-मुंबई वंदे भारत एक्सप्रेस का उद्घाटन

कार्यक्रम के दौरान प्रधान मंत्री ने जालना-मुंबई वंदे भारत एक्सप्रेस के उद्घाटन को हरी झंडी दिखाई। 8-कोच वाली सेवा सुबह 11 बजे जालना से प्रस्थान करेगी और शाम 6:45 बजे मुंबई पहुंचेगी। मुंबई में छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस (सीएसएमटी) पहुंचने से पहले मार्ग के उल्लेखनीय ठहरावों में छत्रपति संभाजीनगर, मनमाड जंक्शन, नासिक रोड, कल्याण जंक्शन, ठाणे और दादर शामिल हैं।

नियमित कार्यक्रम और भविष्य की योजनाएँ

1 जनवरी से जालना-मुंबई वंदे भारत एक्सप्रेस नियमित रूप से चलेगी, जो दोपहर 1:10 बजे सीएसएमटी से प्रस्थान करेगी और रात 8:30 बजे जालना पहुंचेगी। 2 जनवरी से ट्रेन सुबह 5:05 बजे जालना से रवाना होगी और 11:55 बजे सीएसएमटी पहुंचेगी।

राम मंदिर प्रतिष्ठापन से पूर्व उद्घाटन

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन का उद्घाटन प्रतीकात्मक महत्व रखता है क्योंकि यह 22 जनवरी को होने वाले राम मंदिर के ‘प्राण प्रतिष्ठा’ या अभिषेक समारोह से पहले है। पवित्र शहर अयोध्या को फूलों, भित्ति चित्रों और विषयगत सजावटी स्तंभ सहित सजावट से सजाया गया है। जबकि भारी सुरक्षा तैनाती घटना के लिए एक सहज और सुरक्षित वातावरण सुनिश्चित करती है।

परीक्षा से सम्बंधित महत्वपूर्ण प्रश्न

Q1. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को किस महत्वपूर्ण घटना को चिह्नित किया?

Q2. अमृत भारत एक्सप्रेस ट्रेनों की विशेषतः क्या है?

Q3. कार्यक्रम के दौरान कितनी वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेनों को हरी झंडी दिखाई गई?

Q4. जालना-मुंबई वंदे भारत एक्सप्रेस की उल्लेखनीय विशेषता क्या है?

Q5. जालना-मुंबई वंदे भारत एक्सप्रेस नियमित रूप से कब चलेगी?

अपने ज्ञान की जाँच करें और कमेन्ट सेक्शन में प्रश्नों के उत्तर देने का प्रयास करें।

पीएम मोदी ने अयोध्या में 2 नई अमृत भारत, 6 वंदे भारत ट्रेनों का उद्घाटन किया |_40.1

 

FAQs

आईओसी की अगली मानव संसाधन निदेशक कौन होंगी?

आईओसी की अगली मानव संसाधन निदेशक रश्मि गोविल होंगी।

TOPICS: