Home   »   प्रधानमंत्री ने किया चेन्नई, तमिलनाडु में...

प्रधानमंत्री ने किया चेन्नई, तमिलनाडु में खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2023 का उद्घाटन

प्रधानमंत्री ने किया चेन्नई, तमिलनाडु में खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2023 का उद्घाटन |_30.1

प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने अपनी सक्रिय भागीदारी और समर्थन का प्रदर्शन करते हुए, चेन्नई, तमिलनाडु में 13वें खेलो इंडिया यूथ गेम्स का उत्साहपूर्वक उद्घाटन किया।

खेलो इंडिया यूथ गेम्स के 13वें संस्करण का उद्घाटन प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने चेन्नई, तमिलनाडु में बड़े उत्साह के साथ किया। उद्घाटन समारोह में न केवल बहुप्रतीक्षित खेल आयोजन की शुरुआत हुई, बल्कि प्रसारण क्षेत्र में लगभग 250 करोड़ रुपये की महत्वपूर्ण परियोजनाओं का शुभारंभ और शिलान्यास भी किया गया।

सांस्कृतिक कार्यक्रम

प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी उपस्थिति से इस कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई और एक जीवंत सांस्कृतिक कार्यक्रम में भाग लिया। समारोह का मुख्य आकर्षण खेलों की मशाल जलाना था, जो खेलो इंडिया यूथ गेम्स के आधिकारिक उद्घाटन का प्रतीक था। मशाल को दो एथलीटों द्वारा सौंपा गया और कढ़ाई पर रखा गया, जो एक रोमांचक खेल समारोह की शुरुआत का प्रतीक था।

देश भर से आए एथलीटों का हार्दिक स्वागत

सभा को संबोधित करते हुए, प्रधान मंत्री मोदी ने प्रतिभागियों का गर्मजोशी से स्वागत किया, 13वें खेलो इंडिया गेम्स को वर्ष 2024 की शानदार शुरुआत के रूप में चिह्नित किया। उन्होंने साझा किया कि इस आयोजन में भारत के सभी 36 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के एथलीट शामिल होंगे, जो विविधता का प्रदर्शन करेंगे। पूरे देश में प्रतिभा और खेल भावना व्याप्त है।

भविष्य पर निगाहें: पेरिस 2024 और लॉस एंजिल्स 2028 के लिए तैयारी

आगामी वैश्विक खेल आयोजनों पर ध्यान केंद्रित करते हुए, प्रधान मंत्री मोदी ने चालू वर्ष में पेरिस ओलंपिक और 2028 में लॉस एंजिल्स ओलंपिक के लिए भारत की तैयारियों का उल्लेख किया। उन्होंने आश्वासन दिया कि अंतरराष्ट्रीय मंच पर उनकी सफलता के लिए देश की प्रतिबद्धता पर जोर देते हुए, टॉप्स पहल के तहत एथलीटों को हर संभव सहायता प्रदान की जा रही है।

तटीय शहर और खेल पर्यटन: एक नए युग की शुरुआत

प्रधान मंत्री मोदी ने खेलों में 8 पारंपरिक भारतीय खेलों को शामिल करने का जश्न मनाया, जिसमें 1600 एथलीटों ने भाग लिया। उन्होंने तटीय शहरों को लाभ पहुंचाने, समुद्र तट खेलों और खेल पर्यटन के एक नए युग की शुरुआत करने में इन खेलों के महत्व पर प्रकाश डाला।

परिवर्तनकारी पहल:

प्रधान मंत्री ने गर्व से भारत के पहले राष्ट्रीय खेल विश्वविद्यालय की स्थापना और खेलो इंडिया अभियान के तहत 300 से अधिक प्रतिष्ठित अकादमियों के निर्माण का उल्लेख किया। 1,000 खेलो इंडिया केंद्रों और 30 से अधिक उत्कृष्टता केंद्रों के साथ, देश में खेल के बुनियादी ढांचे को महत्वपूर्ण बढ़ावा मिला है। इसके अतिरिक्त, उन्होंने नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत मुख्य पाठ्यक्रम में खेलों के एकीकरण की ओर इशारा किया, जिससे बचपन से ही एक व्यवहार्य करियर विकल्प के रूप में खेलों के बारे में जागरूकता पैदा होगी।

दक्षिण भारत का पहला खेलो इंडिया अनुभव

इस वर्ष के खेलो इंडिया यूथ गेम्स का ऐतिहासिक महत्व है क्योंकि यह पहली बार है कि इस आयोजन की मेजबानी दक्षिण भारत में की जा रही है। चेन्नई का जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम उद्घाटन समारोह का स्थल था। खेल 19 से 31 जनवरी 2024 तक तमिलनाडु के चार शहरों – चेन्नई, मदुरै, त्रिची और कोयंबटूर में आयोजित किए जाएंगे, जो दर्शकों का मनोरंजन करेंगे।

वीरा मंगई: वीरता और शक्ति का प्रतीक

खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2023 की शुभंकर वीरा मंगई, ब्रिटिश औपनिवेशिक शासन के खिलाफ लड़ने वाली भारतीय रानी रानी वेलु नचियार को श्रद्धांजलि देती हैं। शुभंकर भारतीय महिलाओं की ताकत और वीरता का प्रतीक है, जो खेलों में महिलाओं की शक्ति का प्रतीक है। खेलों के लोगो में प्रसिद्ध कवि तिरुवल्लुवर की आकृति दिखाई देती है।

विविध खेल महोत्सव: 26 अनुशासन और एक डेमो खेल

इस संस्करण में 5600 से अधिक एथलीट भाग लेंगे, जो 26 खेल विधाओं में भाग लेंगे, जिसमें पारंपरिक और पारंपरिक दोनों खेल शामिल हैं। विशेष रूप से, तमिलनाडु के पारंपरिक खेल सिलंबम को खेलो इंडिया यूथ गेम्स के इतिहास में पहली बार डेमो खेल के रूप में पेश किया जाएगा।

प्रसारण क्षेत्र को बढ़ावा: 250 करोड़ रुपये की परियोजनाएं

खेल तमाशे के अलावा, प्रधान मंत्री मोदी ने प्रसारण क्षेत्र में लगभग 250 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का शुभारंभ और शिलान्यास किया। इनमें डीडी तमिल के रूप में संशोधित डीडी पोधिगई चैनल, 8 राज्यों में 12 आकाशवाणी एफएम परियोजनाएं और जम्मू और कश्मीर में 4 डीडी ट्रांसमीटर शामिल हैं। इसके अलावा, प्रधान मंत्री ने 12 राज्यों में 26 नए एफएम ट्रांसमीटर परियोजनाओं की आधारशिला रखने की शुरुआत की।

परीक्षा से सम्बंधित महत्वपूर्ण प्रश्न

1. खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2023 कितने शहरों में खेले जाएंगे?

2. खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2023 के उद्घाटन समारोह में कौन सा पारंपरिक भारतीय खेल प्रदर्शित हुआ?

3. भारत का पहला राष्ट्रीय खेल विश्वविद्यालय कहाँ स्थित है?

कृपया अपनी प्रतिक्रियाएँ टिप्पणी अनुभाग में साझा करें!!

 

प्रधानमंत्री ने किया चेन्नई, तमिलनाडु में खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2023 का उद्घाटन |_40.1

FAQs

किस राज्य ने ‘अपना विद्यालय’ कार्यक्रम के तहत महत्वाकांक्षी ‘माई स्कूल-माई प्राइड’ अभियान का अनावरण किया है?

हिमाचल प्रदेश राज्य ने ‘अपना विद्यालय’ कार्यक्रम के तहत महत्वाकांक्षी ‘माई स्कूल-माई प्राइड’ अभियान का अनावरण किया है।

TOPICS: