Home   »   पेरुमल मुरुगन की ‘फायर बर्ड’ ने...

पेरुमल मुरुगन की ‘फायर बर्ड’ ने साहित्य के लिए 2023 जेसीबी पुरस्कार जीता

पेरुमल मुरुगन की 'फायर बर्ड' ने साहित्य के लिए 2023 जेसीबी पुरस्कार जीता |_30.1

तमिल लेखक पेरुमल मुरुगन का उपन्यास ‘फायर बर्ड’, जिसका जननी कन्नन द्वारा अंग्रेजी में कुशलतापूर्वक अनुवाद किया गया है, साहित्य के लिए 2023 जेसीबी पुरस्कार में विजयी हुआ। इस प्रतिष्ठित पुरस्कार की घोषणा नई दिल्ली में पेंगुइन रैंडम हाउस इंडिया द्वारा प्रकाशित पुस्तक के साथ की गई।

पांच सदस्यीय जूरी के अध्यक्ष, लेखक श्रीनाथ पेरूर ने ‘फायर बर्ड’ की सराहना करते हुए कहा कि मुरुगन आश्चर्यजनक विशिष्टता के साथ जमीन से जुड़ी एक सार्वभौमिक कहानी को प्रस्तुत करता है। न केवल तमिल भाषा की लय बल्कि जननी कन्नन के अनुवाद की सराहना की गई।

 

मुख्य बिंदु

  • जूरी सदस्य स्वाति त्यागराजन, एक पत्रकार और फिल्म निर्माता, ने उपन्यास को “एक सामान्य जीवन की एक शक्तिशाली विचारोत्तेजक कहानी” के रूप में वर्णित किया।
  • उन्होंने अंग्रेजी पाठकों को एक दुनिया, समय और स्थान में डुबोने की क्षमता पर प्रकाश डाला, जिससे ग्रामीण तमिलनाडु के बारे में उनकी समझ समृद्ध हुई।
  • जेसीबी समूह के अध्यक्ष लॉर्ड बैमफोर्ड ने वर्चुअली पुरस्कार की घोषणा की, जिसे जेसीबी इंडिया लिमिटेड के सीईओ और प्रबंध निदेशक दीपक शेट्टी ने व्यक्तिगत रूप से प्रस्तुत किया।
  • जेसीबी साहित्यिक पुरस्कार में लेखक के लिए 25 लाख रुपये का नकद पुरस्कार और अनुवादक के लिए अतिरिक्त 10 लाख रुपये का पुरस्कार शामिल है।

 

साहित्यिक योगदान का जश्न

पेरुमल मुरुगन ने 12 उपन्यास, लघु कथाओं के छह संग्रह, कविता के छह संकलन और कई गैर-काल्पनिक पुस्तकों के साथ साहित्य जगत में एक महत्वपूर्ण छाप छोड़ी है। उनके दस उपन्यास, जिनमें ‘सीज़न्स ऑफ़ द पाम’, ‘करंट शो’ और ‘वन पार्ट वुमन’ शामिल हैं, का अंग्रेजी में अनुवाद किया गया है।

 Find More Awards News Here

पेरुमल मुरुगन की 'फायर बर्ड' ने साहित्य के लिए 2023 जेसीबी पुरस्कार जीता |_40.1

FAQs

भारत का सबसे बड़ा पुरस्कार कौन सा है?

भारत रत्न देश का सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार हैं।