Home   »   हरियाणा के पद्म पुरस्कार विजेताओं को...

हरियाणा के पद्म पुरस्कार विजेताओं को 10 हजार रुपये मासिक पेंशन मिलेगी: मुख्यमंत्री खट्टर

हरियाणा के पद्म पुरस्कार विजेताओं को 10 हजार रुपये मासिक पेंशन मिलेगी: मुख्यमंत्री खट्टर |_30.1

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने 12 जून 2023 को राज्य के पद्म पुरस्कार विजेताओं को 10,000 रुपये मासिक पेंशन देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने मासिक पेंशन के अलावा हरियाणा के पद्म श्री, पद्म भूषण और पद्म विभूषण विजेताओं को राज्य सरकार की ‘वोल्वो बस’ सेवा में मुफ्त यात्रा सुविधा देने की भी घोषणा की है। आधिकारिक बयान में कहा गया कि मुख्यमंत्री ने यह घोषणा करनाल की अपनी यात्रा के दौरान की। इस बीच, खट्टर ने कहा कि सरकार ने राज्य के लोगों के जीवन को आसान बनाने के लिए कई कल्याणकारी नीतियां बनाई हैं। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार में योजनाओं का सीधा लाभ लोगों को मिल रहा है। अब सहायता राशि (विभिन्न योजनाओं के तहत) सीधे लाभार्थी के खाते में जाती है।

 

जनवरी में हुई थी पद्म पुरस्कारों की घोषणा

 

बता दें कि इस साल जनवरी में केंद्र सरकार ने कुल 106 पद्म पुरस्कारों की घोषणा की थी जिसमें कला, सामाजिक कार्य, सार्वजनिक मामले, विज्ञान और इंजीनियरिंग, व्यापार और उद्योग, चिकित्सा, साहित्य और शिक्षा, खेल और सिविल सेवा जैसे क्षेत्रों में पद्म पुरस्कार दिए गए थे।

 

तीन श्रेणियों में दिए जाते हैं पद्म पुरस्कार

 

पद्म पुरस्कार तीन श्रेणियों पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्म श्री में दिए जाते हैं। ये पुरस्कार विभिन्न विषयों और क्षेत्रों जैसे कला, सामाजिक कार्य, सार्वजनिक मामले, विज्ञान और इंजीनियरिंग, व्यापार और उद्योग, चिकित्सा, साहित्य और शिक्षा, खेल, सिविल सेवा आदि में दिए जाते हैं। बता दें कि ‘पद्म विभूषण’ असाधारण और विशिष्ट सेवा के लिए प्रदान किया जाता है, उच्च क्रम की विशिष्ट सेवा के लिए ‘पद्म भूषण’ और किसी भी क्षेत्र में विशिष्ट सेवा के लिए ‘पद्म श्री’ प्रदान किया जाता है। प्रत्येक वर्ष गणतंत्र दिवस के अवसर पर पुरस्कारों की घोषणा की जाती है। ये पुरस्कार भारत के राष्ट्रपति द्वारा औपचारिक समारोहों में प्रदान किए जाते हैं। पुरस्कार समारोह का आयोजन आमतौर पर हर साल मार्च-अप्रैल में राष्ट्रपति भवन में किया जाता है।

FAQs

पद्म पुरस्कार की शुरुआत कब हुई?

पद्म पुरस्कार वर्ष 1954 में प्रारंभ किए गए थे।