gdfgerwgt34t24tfdv
Home   »   चालू वित्त वर्ष में सात प्रतिशत...

चालू वित्त वर्ष में सात प्रतिशत से अधिक की दर से बढ़ेगी भारतीय अर्थव्यवस्था : NCAER

नेशनल काउंसिल ऑफ एप्लाइड इकोनॉमिक रिसर्च (NCAER) का अनुमान है कि वित्तीय वर्ष 2024-25 में भारत का जीडीपी 7% को पार कर सकता है और संभवतः 7.5% तक पहुँच सकता है, जो मजबूत घरेलू आर्थिक संकेतकों और अनुकूल वैश्विक परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए है। उच्च-आवृत्ति डेटा से मजबूत आर्थिक गतिविधि का संकेत मिलता है, जिससे सभी प्रमुख एजेंसियों द्वारा ऊपर की ओर संशोधन किए जा रहे हैं। इस दृष्टिकोण का समर्थन करने वाले कारकों में सामान्य मानसून की उम्मीद और निवेश और स्थिरता पर केंद्रित नीति रुख शामिल हैं।

आर्थिक लचीलापन और विकास अनुमान

NCAER के अनुमानों के अनुसार, वर्तमान वित्तीय वर्ष के लिए जीडीपी वृद्धि दर 7.2% से 6.2% के बीच हो सकती है, जो निरंतर आर्थिक मजबूती को दर्शाती है। महानिदेशक पूनम गुप्ता ने पहले तिमाही के मजबूत प्रदर्शन और सक्रिय आर्थिक नीतियों के समर्थन से 7% से अधिक वृद्धि की संभावना को रेखांकित किया है।

मौद्रिक और मुद्रास्फीति की गतिशीलता

मई में खुदरा महंगाई दर 4.7% के 12 महीने के निचले स्तर पर आ जाने के साथ, भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) पर मौद्रिक सख्ती का दबाव कम हो गया है। आरबीआई का ध्यान सीपीआई आधारित महंगाई को अपने लक्षित 4% की सीमा के भीतर बनाए रखने पर है, हालिया रुझान स्थिरता का संकेत देते हैं, बावजूद इसके कि खाद्य कीमतों की चुनौतियां बनी हुई हैं।

क्षेत्रीय प्रदर्शन और संकेतक

मुख्य आर्थिक संकेतक जैसे कि पर्चेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स (PMI), इंडेक्स ऑफ इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन (IIP), और वस्तु एवं सेवा कर (GST) संग्रहण निर्माण, सेवाओं और मुख्य उद्योगों में चल रहे विस्तार को दर्शाते हैं। मजबूत बैंक क्रेडिट वृद्धि, हालांकि व्यक्तिगत ऋणों में कुछ कमी आई है, और कृषि के लिए आशावादी संभावनाएँ व्यापक आर्थिक गति को आधार प्रदान करती हैं।

चुनौतियां और भविष्य का दृष्टिकोण

हालांकि वैश्विक जोखिम न्यूनतम बने हुए हैं, खाद्य महंगाई को प्रबंधित करने और जलवायु-संवेदनशील खाद्य आपूर्ति श्रृंखलाओं को मजबूत करने में चुनौतियाँ बनी हुई हैं। NCAER इन मुद्दों का समाधान करने और बदलते वैश्विक और घरेलू गतिशीलताओं के बीच आर्थिक विकास को बनाए रखने के लिए एक व्यापक नीति ढांचे की वकालत करता है।

चालू वित्त वर्ष में सात प्रतिशत से अधिक की दर से बढ़ेगी भारतीय अर्थव्यवस्था : NCAER |_3.1

FAQs

चिनाब व्हाइट वाटर राफ्टिंग महोत्सव (Chenab White Water Rafting Festival) की शुरुआत किस स्थान पर की गयी?

चिनाब व्हाइट वाटर राफ्टिंग महोत्सव (Chenab White Water Rafting Festival) की शुरुआत जम्मू कश्मीर में की गयी।