Home   »   COP28 की एडवाइजरी कमेटी में शामिल...

COP28 की एडवाइजरी कमेटी में शामिल हुए Mukesh Ambani

COP28 की एडवाइजरी कमेटी में शामिल हुए Mukesh Ambani |_30.1

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के अध्यक्ष मुकेश अंबानी को अंतरराष्ट्रीय सलाहकार समिति के सदस्य के रूप में नामित किया गया है। अंबानी अब कांफ्रेंस ऑफ पार्टी (COP28) के 28वें सत्र में अध्यक्ष को मार्गदर्शन और सलाह देंगे। अंबानी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआइएल) के तहत नवीकरणीय ऊर्जा को बढ़ावा दे रहे हैं और अपने पारंपरिक कच्चे तेल के शोधन एवं पेट्रोकेमिकल्स कारोबार में विविधता ला रहे हैं। वह समिति में शामिल 31 अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों में एक हैं।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

ये हैं COP28 के अध्यक्ष

 

जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र फ्रेमवर्क कन्वेंशन (UNFCCC) सचिवालय ने जनवरी में घोषणा की कि सुल्तान अहमद अल जाबेर, उद्योग और उन्नत प्रौद्योगिकी मंत्री और जलवायु परिवर्तन के लिए यूएई के विशेष दूत, COP28 के अध्यक्ष होंगे।

 

COP28 के बोर्ड में कौन-कौन शामिल ?

बोर्ड में ब्लैकरॉक के सीईओ लैरी फिंक, सीमेंस के पर्यवेक्षी बोर्ड के अध्यक्ष जो कैसर, क्रिसेंट पेट्रोलियम के अध्यक्ष बद्र जाफर, बीपी के पूर्व प्रमुख बॉब डुडले और चीन पेट्रोकेमिकल कॉर्पोरेशन के फू चेंगयु शामिल हैं। वहीं भारत की ओर से जलवायु प्रचारक सुनीता नारायण इस बोर्ड में एकमात्र भारतीय हैं।
समिति में पूर्व फ्रांसीसी पीएम और COP21 के अध्यक्ष लॉरेंट फैबियस, आइसलैंड के पूर्व राष्ट्रपति ओलाफुर ग्रिम्सन, रोथ्सचाइल्ड ग्रुप के उपाध्यक्ष (पूर्व सीईओ, रोल्स-रॉयस) सर जॉन रोज़, निदेशक, एमआईटी कंप्यूटर साइंस और एआई लैब डेनिएला रस और पूर्व गणराज्य मार्शल द्वीप समूह के अध्यक्ष हिल्डा हेइन शामिल हैं।

 

क्या है COP28 ?

COP28 यूएई सलाहकार समिति 6 महाद्वीपों के देशों के विचारकों की जलवायु विशेषज्ञता को एक साथ लाती है जो नीति, उद्योग, ऊर्जा, वित्त, नागरिक समाज, युवा और मानवीय कार्रवाई का प्रतिनिधित्व करते हैं। इस समिति में 31 सदस्य होते है।

 

Find More News Related to Schemes & Committees

COP28 की एडवाइजरी कमेटी में शामिल हुए Mukesh Ambani |_40.1

FAQs

भारत का पहला जिला कौन सा है?

सलेम जिला 4 अप्रैल 1792 को भारत में बनने वाला पहला जिला था, जो 7,530 वर्ग किमी में फैला हुआ था, जिसमें वर्तमान नामक्कल, धर्मपुरी, कृष्णागिरि शामिल हैं।