Home   »   मणिपुर सरकार ने खोंगजोम वार मेमोरियल...

मणिपुर सरकार ने खोंगजोम वार मेमोरियल कॉम्प्लेक्स में बनाया “खोंगजोम दिवस”

मणिपुर सरकार ने खोंगजोम वार मेमोरियल कॉम्प्लेक्स में बनाया “खोंगजोम दिवस”_3.1
मणिपुर सरकार द्वारा थौबल जिले में स्थित खोंगजोम वार मेमोरियल कॉम्प्लेक्स में “खोंगजोम दिवस” मनाया गया। यह दिन 1891 के एंग्लो-मणिपुरी युद्ध (ब्रिटिश साम्राज्य के खिलाफ मणिपुर के लोगों द्वारा लड़ी गई) में बहादुरी से लड़ने वाले सैनिकों की स्मृति में मनाया जाता है।

खोंगजोम वार मेमोरियल कॉम्प्लेक्स, एक ऐतिहासिक युद्ध स्मारक स्थल है, जिसमे युद्ध में लड़े सैनिकों की याद में बनाई गई दुनिया की सबसे ऊंची तलवार की प्रतिमा है।
एंग्लो-मणिपुरी युद्ध?

एंग्लो-मणिपुर युद्ध 1891 में ब्रिटिश सरकार और मणिपुर राज्य के बीच लड़ा गया था, जो 31 मार्च और 27 अप्रैल के तक चला था, जिसमे ब्रिटिश साम्राज्य की जीत हुई थी और जिसके बाद 22 सितंबर 1891 को मीडिंगंगु चौराचंद को ताज पहनाया गया। यह युद्ध मणिपुर के खोंगजोम की खेबा की पहाड़ियों में लड़ा गया था, जिसमें सैनिकों ने ब्रिटिश पर तीन ओर सिलचर, कोहिमा और म्यांमार के हमला किया था।

उपरोक्त समाचारों से आने-वाली परीक्षाओं के लिए
महत्वपूर्ण तथ्य-
  • मणिपुर के मुख्यमंत्री: एन बीरेन सिंह.
  • मणिपुर के राज्यपाल: नजमा हेपतुल्ला.
  • केयबुल लामजाओ राष्ट्रीय उद्यान भारत में मणिपुर राज्य के
    विष्णुपुर जिले में स्थित एक राष्ट्रीय उद्यान है. यह पूर्वोत्तर भारत में स्थित
    विश्व में इकलौता तैरता हुआ राष्ट्रीय उद्यान है और मणिपुर की विश्व प्रसिद्ध
    लोकतक झील का एक अभिन्न हिस्सा है.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *