Home   »   SBI को पछाड़ LIC बनी सबसे...

SBI को पछाड़ LIC बनी सबसे मूल्यवान PSU

SBI को पछाड़ LIC बनी सबसे मूल्यवान PSU |_30.1

भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) के शेयर में बुधवार को सुबह के कारोबार में 2% से अधिक की वृद्धि हुई, जिससे इस सरकारी बीमा कंपनी का मार्केट कैप 5.8 लाख करोड़ रुपये के स्तर को पार कर गया। कंपनी के शेयर 52 सप्ताह के उच्चतम स्तर 919.45 रुपये प्रति शेयर के भाव को छू गए।

एलआईसी ने मार्केट कैप के मामले में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) को पीछे छोड़ दिया है। ऐसे में एलआईसी अब देश की सबसे मूल्यवान पीयूएसयू बन गई है। बीएसई पर एसबीआई के शेयर 1% की कमजोरी के साथ कारोबार करते दिखे। इसका मार्केट कैप लगभग 5.62 लाख करोड़ रुपये था। नवंबर की शुरुआत से एलआईसी के शेयर की कीमतों में 50 फीसदी से ज्यादा की तेजी आई है।

 

नवंबर से लचीला अपट्रेंड

लिस्टिंग के बाद, एलआईसी को मार्च 2023 तक गिरावट के दबाव का सामना करना पड़ा, और यह ₹530 के सर्वकालिक निचले स्तर पर पहुंच गया। हालाँकि, नवंबर से एक उल्लेखनीय बदलाव आया, जिसमें 50% से अधिक की वृद्धि देखी गई। दिसंबर में 22.66% की प्रभावशाली वृद्धि देखी गई, और 10% से अधिक की बढ़त के साथ सकारात्मक गति 2024 तक जारी रही।

 

विश्लेषकों का विश्वास चयन

विश्लेषकों के बीच एलआईसी एक पसंदीदा पसंद बनी हुई है, जो अपने एंबेडेड वैल्यू के मुकाबले डिस्काउंट पर कारोबार कर रही है, जिससे पर्याप्त वैल्यू कंफर्ट मिल रहा है। अपने विशाल आकार के बावजूद, एलआईसी की बाजार हिस्सेदारी बढ़ रही है, और भाग लेने वाले (पीएआर) और गैर-भागीदारी (गैर पीएआर) व्यवसायों में विनियामक परिवर्तनों से लंबे समय में लाभप्रदता बढ़ने की उम्मीद है।

 

रणनीतिक कदम

PAR और गैर-PAR व्यवसाय खंड LIC के लिए रणनीतिक फोकस क्षेत्र रहे हैं। सहभागी जीवन बीमा योजना (पीएआर) पॉलिसीधारकों को कंपनी के मुनाफे में हिस्सेदारी करने की अनुमति देती है, जिससे समग्र मार्जिन बढ़ता है। विश्लेषकों का मानना है कि नॉन पीएआर सेगमेंट की हिस्सेदारी में बढ़ोतरी एलआईसी की लाभप्रदता में और योगदान दे सकती है।

 

वित्तीय प्रदर्शन की मुख्य बातें

FY24 की पहली छमाही में, LIC ने ₹17,469 करोड़ का शुद्ध लाभ दर्ज किया, जो पिछले वर्ष की समान अवधि में ₹16,635 करोड़ से वृद्धि दर्शाता है। H1FY24 के लिए नया बिजनेस प्रीमियम (व्यक्तिगत) 2.65% बढ़कर ₹25,184 करोड़ हो गया, जो कंपनी के लचीलेपन और विकास प्रक्षेपवक्र को दर्शाता है।

 

बाज़ार की धारणा और भविष्य का दृष्टिकोण

एलआईसी की हालिया उपलब्धियों और मजबूत वित्तीय प्रदर्शन ने बीमा क्षेत्र में एक दिग्गज के रूप में इसकी स्थिति को मजबूत किया है। बाजार विश्लेषक और निवेशक इस स्टॉक पर करीब से नजर रख रहे हैं, जो अब अपने आईपीओ मूल्य से लगभग 4% दूर है। सकारात्मक गति और रणनीतिक पहल एलआईसी को निकट भविष्य में निरंतर विकास के लिए अनुकूल स्थिति में रखती है।

 

FAQs

भारतीय जीवन बीमा में क्या फायदा है?

जीवन बीमा समय के साथ जमा हुए किसी भी बकाया ऋण या देनदारियों को दूर करने में सहायता कर सकता है। इसमें बंधक, व्यक्तिगत ऋण, क्रेडिट कार्ड ऋण या व्यावसायिक ऋण शामिल हैं। लाइफ़ इंश्योरेंस पॉलिसी छोड़ना यह सुनिश्चित करता है कि आपके प्रियजन आपके फाइनेंशियल दायित्वों को विरासत में नहीं लेंगे और नए सिरे से शुरुआत करेंगे।

TOPICS: