Home   »   किबिथू सैन्य गैरीसन शिविर का नाम...

किबिथू सैन्य गैरीसन शिविर का नाम बिपिन रावत के नाम पर रखा गया

किबिथू सैन्य गैरीसन शिविर का नाम बिपिन रावत के नाम पर रखा गया_2.1

देश के पहले सीडीएस जनरल बिपिन रावत के सम्मान में अरुणाचल प्रदेश के एक सैन्य कैंप का नाम अब बदल दिया गया है। किबिथू सैन्य शिविर (Kibithu army camp) का नाम बदलकर ‘जनरल बिपिन रावत सैन्य गैरीसन’ कर दिया गया है। जनरल रावत ने कर्नल के रूप में किबिथू में एक कमांडिंग ऑफिसर के रूप में कार्य किया है। इसके लिए एक समारोह का आयोजन किया गया था जिसमें कई आबड़े अधिकारी और बिपिन रावत का परिवार भी शामिल हुआ।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

किबिथू में जनरल बिपिन रावत का योगदान

किबिथू भारत के पूर्वी हिस्से में लोहित घाटी के तट पर बसा एक छोटा सा गांव है। अरुणाचल प्रदेश के किबिथु को सैन्य दृष्टिकोण से एक महत्वपूर्ण स्थान माना जाता है। सेना ने कहा कि बुनियादी ढांचे के विकास को लागू करने और क्षेत्र में सामाजिक प्रगति सुनिश्चित करने में जनरल रावत की दूरदर्शिता ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। बता दें कि जनरल बिपिन रावत ने एक युवा कर्नल के रूप में 1999-2000 तक किबिथू में बटालियन 5/11 गोरखा राइफल्स की कमान संभाली थी और क्षेत्र की सुरक्षा संरचना को मजबूत करने में महत्वपूर्ण योगदान दिया था।

जनरल बिपिन रावत का निधन

गौरतलब है कि जनरल रावत का पिछले साल आठ दिसंबर को तमिलनाडु में कुन्नूर के पास एक हेलिकाप्टर दुर्घटना में निधन हो गया था। इस हादसे में उनकी पत्नी मधुलिका रावत तथा 12 अन्य सैनिकों की भी मौत हो गई थी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *