Home   »   कर्नाटक ने ब्यंदूर में देश की...

कर्नाटक ने ब्यंदूर में देश की पहली मरीना बनाने की योजना बनाई

कर्नाटक ने ब्यंदूर में देश की पहली मरीना बनाने की योजना बनाई |_30.1

कर्नाटक सरकार कर्नाटक में तटीय पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए उडुपी जिले के ब्यंदूर में डॉकेज की पेशकश करने वाली देश की पहली मरीना या एक नाव बेसिन का निर्माण करेगी। सरकार तटीय क्षेत्रों में समुद्र तट पर्यटन और तीर्थ पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए तटीय विनियमन क्षेत्र (सीआरजेड) में ढील देने के लिए केंद्र से अनुमति भी मांगेगी।

सरकार पुरातत्व विभाग से गंगा, कदंब, राष्ट्रकूटा, चालुक्य और होयसला जैसे महानतम राजवंशों के इतिहास को एकत्र करेगी और राज्य में पर्यटन के इतिहास को विकसित करेगी। इससे न केवल पर्यटन के विकास में मदद मिलेगी, बल्कि लोगों को राज्य के समृद्ध इतिहास को समझने में भी मदद मिलेगी।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

सीएम के अनुसार, सरकार ने बनवासी में मधुकेश्वर और गनागापुरा में दत्तात्रेय जैसे प्राचीन मंदिरों का एक गलियारा बनाने और ‘यात्रा पर्यटन’ को बढ़ावा देने का प्रस्ताव दिया। बेनाकल क्षेत्र को विकसित करने के निर्देश दिए गए हैं। अंजनाद्री बेट्टा का विकास जारी है। सरकार बेनाकल क्षेत्र का विकास करेगी जबकि अंजनाद्री पहाड़ी का विकास किया जा रहा है। मान्यता प्राप्त टूरिस्ट गाइड को 5000 रुपये मासिक मानदेय देने की भी योजना है। कर्नाटक को प्रकृति का वरदान प्राप्त है। इसमें 350 किलोमीटर का तटीय क्षेत्र, 10 अलग-अलग मौसम क्षेत्र, पश्चिमी घाट का 400 किलोमीटर, 300 दिनों के लिए धूप के साथ एक समृद्ध जैव विविधता और कई नदियाँ हैं।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण टेकअवे:

  • कर्नाटक की राजधानी: बेंगलुरु (कार्यकारी शाखा);
  • कर्नाटक के राज्यपाल: थावर चंद गहलोत;
  • कर्नाटक के मुख्यमंत्री: बसवराज बोम्मई।

 

कर्नाटक ने ब्यंदूर में देश की पहली मरीना बनाने की योजना बनाई |_40.1

FAQs

कर्नाटक के राज्यपाल कौन हैं ?

कर्नाटक के राज्यपाल थावर चंद गहलोत हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *