Home   »   कपिल सिब्बल बने सुप्रीम कोर्ट बार...

कपिल सिब्बल बने सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष

कपिल सिब्बल बने सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष_3.1

सीनियर वकील कपिल सिब्बल ने सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष पद का चुनाव जीत लिया है। यह प्रतिष्ठित वकीलों के संगठन के अध्यक्ष के रूप में उनका चौथा कार्यकाल है, जो वरिष्ठ अधिवक्ता आदिश सी अग्रवाल के स्थान पर हैं।

सिब्बल को 1066 वोट मिले, जबकि दूसरे दावेदार सीनियर वकील प्रदीप राय को 689 वोट मिले। निवर्तमान अध्यक्ष वरिष्ठ अधिवक्ता डॉ. आदिश सी अग्रवाल को 296 वोट मिले हैं। सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष पद के अन्य दावेदार प्रिया हिंगोरानी, त्रिपुरारी रे, नीरज श्रीवास्तव थे।

यह चौथी बार होगा जब सिब्बल एससीबीए के अध्यक्ष के रूप में काम करेंगे। सिब्बल को पहले तीन बार एससीबीए अध्यक्ष के रूप में चुना गया था। आखिरी बार तेईस साल पहले 2001 में वह अध्यक्ष बने थे। इससे पहले वह 1995-96 और 1997-98 के दौरान अध्यक्ष थे।

सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन (एससीबीए) के अध्यक्ष

कपिल सिब्बल ने 8 मई को सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन (एससीबीए) के अध्यक्ष पद के लिए अपनी उम्मीदवारी की घोषणा की थी। हार्वर्ड लॉ स्कूल से स्नातक कपिल सिब्बल 1989-90 के दौरान भारत के अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल थे। उन्हें 1983 में वरिष्ठ वकील के रूप में नामित किया गया था। 1995 और 2002 के बीच पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने तीन बार एससीबीए अध्यक्ष के रूप में काम किया।

महिला सदस्यों के लिए आरक्षण

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने निर्देश दिया था कि एससीबीए की कार्यकारी समिति में कुछ पद महिला सदस्यों के लिए आरक्षित किये जाएं। जस्टिस सूर्यकांत और जस्टिस केवी विश्वनाथन की पीठ ने कहा था कि उसका मानना है कि एससीबीए एक प्रमुख संस्था है। यह देश के सर्वोच्च न्यायिक मंच का अभिन्न अंग है। इसने निर्देश दिया था कि बार की महिला सदस्यों के लिए आरक्षण होगा।

FAQs

सुप्रीम कोर्ट का गठन कब हुआ था?

भारत के सर्वोच्च न्यायालय की स्थापना 26 जनवरी 1950 को हुई थी।