Home   »   न्यायमूर्ति बिद्युत रंजन षाड़ंगी झारखंड हाइकोर्ट...

न्यायमूर्ति बिद्युत रंजन षाड़ंगी झारखंड हाइकोर्ट के बने15वें चीफ जस्टिस

न्यायमूर्ति बिद्युत रंजन षाड़ंगी (Bidyut Ranjan Sarangi) को झारखंड उच्च न्यायालय का मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया गया है, जो न्यायमूर्ति संजय कुमार मिश्रा के स्थान पर हैं, जो 28 दिसंबर, 2023 को सेवानिवृत्त हुए। उनकी नियुक्ति की सिफारिश सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने पिछले साल दिसंबर में की थी और केंद्रीय कानून और न्याय मंत्रालय द्वारा 3 जुलाई को आधिकारिक तौर पर घोषणा की गई थी।

शपथ ग्रहण समारोह

न्यायमूर्ति षाड़ंगी` ने 5 जुलाई को झारखंड उच्च न्यायालय के 15 वें मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ली। राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन ने रांची में राजभवन में उन्हें शपथ दिलाई। समारोह में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, विधानसभा अध्यक्ष रवींद्रनाथ महतो के साथ कई न्यायाधीश और वरिष्ठ सरकारी अधिकारी मौजूद थे।

कैरियर पृष्ठभूमि

न्यायमूर्ति षाड़ंगी, जो पहले उड़ीसा उच्च न्यायालय के न्यायाधीश थे, ने दिसंबर 1985 में अपना कानूनी करियर शुरू किया। उन्हें सिविल, आपराधिक, संवैधानिक, राजस्व, कर, श्रम, सेवा, खनन, शिक्षा, बिजली, बीमा और बैंकिंग सहित कानून के विभिन्न क्षेत्रों में व्यापक अनुभव है। उन्हें 20 जून, 2013 को ओडिशा उच्च न्यायालय के स्थायी न्यायाधीश के रूप में पीठ में पदोन्नत किया गया था।

न्यायमूर्ति बिद्युत रंजन षाड़ंगी झारखंड हाइकोर्ट के बने15वें चीफ जस्टिस |_3.1

 

FAQs

IBJA की स्थापना कब हुई थी ?

IBJA की स्थापना 1919 में हुई थी।