Home   »   इसरो ने पीएसएलवी-सी54 मिशन के लिए...

इसरो ने पीएसएलवी-सी54 मिशन के लिए उलटी गिनती शुरू की

इसरो ने पीएसएलवी-सी54 मिशन के लिए उलटी गिनती शुरू की |_50.1

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के वैज्ञानिक एक और इतिहास रचेंगे। दरअसल, इसरो 26 नवंबर शनिवार यानी कल चेन्नई में स्थित श्रीहरिकोटा अंतरिक्ष केंद्र से ओशनसैट-3 और 8 नैनो सैटेलाइट के साथ पीएसएलवी-सी54-ios-06 मिशन लॉन्च करेगा। इस मिशन के लिए भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के वैज्ञानिकों ने उल्टी गिनती भी शुरू कर दी है। गौरतलब है कि इस मिशन के तहत इसरो भूटान की एक सैटेलाइट का प्रक्षेपण भी करेगा।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने इस लांच कार्यक्रम के बारे में जानकारी दी थी। इसरो ने बताया था कि शनिवार (26 नवंबर 2022) सुबह 11 बजकर 56 मिनट पर ये मिशन लांच किया जाएगा। इसके तहत, ईओएस-06 (ओशनसैट-3) और 8 नैनो सैटेलाइट में पिक्सेल से आनंद, भूटानसैट, ध्रुव अंतरिक्ष से दो थायबोल्ट और स्पेसफ्लाइट यूएसए से 4 एस्ट्रोकास्ट लॉन्च किए जाएंगे। इसके लिए उल्टी गिनती आज सुबह 10 बजकर 26 मिनट से शुरू की गई।

उन्होंने यह भी कहा कि ये पूरा मिशन लगभग 8,200 सेकेंड (2 घंटे 20 मीटर) तक चलने वाला है। इस दौरान प्राथमिक उपग्रहों और नैनो उपग्रहों को दो अलग-अलग सोलर सनक्रोनस पोलर ऑर्बिट्स (एसएसपीओ) में लॉन्च किया जाएगा। सूत्रों ने बताया कि रॉकेट का प्राथमिक पेलोड एक ओशनसैट है जिसे कक्षा -1 में अलग किया जाएगा। वहीं, आठ अन्य नैनो-उपग्रहों को ग्राहकों की आवश्यकताओं के आधार पर (सूर्य-समकालिक ध्रुवीय कक्षाओं) में अलग-अलग कक्षाओं में रखा जाएगा।

More Sci-Tech News Here

इसरो ने पीएसएलवी-सी54 मिशन के लिए उलटी गिनती शुरू की |_60.1

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *