Home   »   दिल्ली में आयोजित होगा चार दिवसीय...

दिल्ली में आयोजित होगा चार दिवसीय विश्व निवेश सम्मेलन

दिल्ली में आयोजित होगा चार दिवसीय विश्व निवेश सम्मेलन |_30.1

भारत आज से नई दिल्ली में चार दिवसीय 27वें WAIPA विश्व निवेश सम्मेलन की मेजबानी करेगा। सम्मेलन में बड़ी संख्या में सरकारी नीति निर्माता, विभिन्न अंतरराष्ट्रीय संगठन, शिक्षा जगत, निजी क्षेत्र और स्टार्टअप के प्रतिनिधि इसमें शामिल होंगे और व्यापार तथा निवेश में सहयोग बढ़ाने के तरीकों पर विचार करेंगे।

राष्ट्रीय निवेश संवर्धन और सुविधा एजेंसी (National Investment Promotion & Facilitation Agency) और वर्ल्ड एसोसिएशन ऑफ इन्वेस्टमेंट प्रमोशन एजेंसियां ​​इंडिया इंटरनेशनल कन्वेंशन एंड एक्सपो सेंटर – यशोभूमि, नई दिल्ली में सम्मेलन का आयोजन कर रही हैं। उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग के तत्वावधान में यह अब तक का सबसे बड़ा विश्व निवेश सम्मेलन होगा।

 

विश्व निवेश सम्मेलन पहली बार भारत

विश्व निवेश सम्मेलन पहली बार भारत में हो रहा है। 1000 से अधिक उपस्थितगण, 50 निवेश संवर्धन एजेंसियां ​​(आईपीए) और विभिन्न बहुपक्षीय एजेंसियां ​​सम्मेलन में भाग लेंगी। वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में आयोजित होने वाले विश्व निवेश सम्मेलन से निवेश, व्यापार, अनुसंधान और विकास के क्षेत्रों में सहयोग को बढ़ावा मिलेगा।

 

13 को संबोधित करेंगे पीयूष गोयल

केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग, उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण और कपड़ा मंत्री पीयूष गोयल 13 दिसंबर को कार्रवाई के दशक में व्यापार और निवेश की भूमिका पर मुख्य भाषण देंगे।

 

परीक्षा से सम्बंधित महत्वपूर्ण प्रश्न

प्रश्न: इस वर्ष के विश्व निवेश सम्मेलन का विषय क्या है?

उत्तर: “निवेशकों को सशक्त बनाना: आईपीए भविष्य के विकास में अग्रणी है।”

प्रश्न: वर्ल्ड एसोसिएशन ऑफ इन्वेस्टमेंट प्रमोशन एजेंसियों का व्यापक मिशन क्या है?

उत्तर: वैश्विक स्तर पर निवेश प्रोत्साहन एजेंसियों को सशक्त बनाना और उनका समर्थन करना।

प्रश्न: सम्मेलन के दौरान भारत किन प्रमुख पहलों का प्रदर्शन करेगा?

उत्तर: मेक इन इंडिया, पीएम गति शक्ति और व्यापार करने में आसानी के लिए अन्य उपाय।

 

दिल्ली में आयोजित होगा चार दिवसीय विश्व निवेश सम्मेलन |_40.1

FAQs

इन्वेस्ट इंडिया की स्थापना किसने की?

इन्वेस्ट इंडिया भारत की राष्ट्रीय निवेश संवर्धन और सुविधा एजेंसी है, जिसे भारत सरकार के वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के औद्योगिक नीति और संवर्धन विभाग के तत्वावधान में एक गैर-लाभकारी उद्यम के रूप में स्थापित किया गया है।