Home   »   International Literacy: जानें अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस...

International Literacy: जानें अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस का इतिहास और महत्व

हर साल 08 सितम्बर को अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस मनाया जाता है। साक्षरता किसी भी देश के विकास के लिए बहुत जरूरी है। देश के जितने ज्यादा नागरिक साक्षर होंगे, देश उतनी ही उन्नति कर सकता है। साक्षरता के इसी महत्व के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए हर साल अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस मनाया जाता है।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

साक्षरता दिवस समाज में शिक्षा के प्रचार प्रसार के उद्देश्य से दुनिया भर में मनाया जाता है। भारत में भी विश्व साक्षरता दिवस को महत्वपूर्ण दिन के तौर पर मनाते हैं। दुनिया के सभी देश हर वर्ग के अपने नागरिकों तक शिक्षा के प्रचार प्रसार के उद्देश्य से साक्षरता दिवस मनाते हैं।

साक्षरता दिवस 2022 की थीम

हर साल साक्षरता दिवस की एक निर्धारित थीम होती है। इस साल साक्षरता दिवस 2022 की थीम ‘ट्रांसफॉर्मिंग लिटरेसी लर्निंग स्पेस’ (Transforming Literacy Learning Spaces) है।

पहली बार साक्षरता दिवस?

दुनियाभर में हर साल अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस 8 सितंबर को मनाते हैं। पहली बार साक्षरता दिवस साल 1966 में मनाया गया था। तब से इस दिन को मनाने की शुरुआत हो गई।

साक्षरता दिवस का इतिहास

यूनेस्को ने 7 नवंबर 1965 को अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस मनाने का फैसला लिया था। उसके बाद से हर साल 8 सितंबर 1966 से विश्व साक्षरता दिवस मनाया जाने लगा।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण तथ्य:

  • यूनेस्को की स्थापना: 16 नवंबर 1945;
  • यूनेस्को मुख्यालय: पेरिस, फ्रांस;
  • यूनेस्को के सदस्य: 193 देश;
  • यूनेस्को प्रमुख: ऑड्रे अज़ोले।

Find More Important Days Here

International Literacy: जानें अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस का इतिहास और महत्व |_30.1

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *