Home   »   पत्रकारों के खिलाफ अपराधों के लिए...

पत्रकारों के खिलाफ अपराधों के लिए दंड समाप्त करने हेतु अंतर्राष्ट्रीय दिवस 2023

पत्रकारों के खिलाफ अपराधों के लिए दंड समाप्त करने हेतु अंतर्राष्ट्रीय दिवस 2023_3.1

पत्रकारों के खिलाफ अपराधों के लिए दण्ड से मुक्ति समाप्त करने का अंतर्राष्ट्रीय दिवस एक विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त अवसर है जो पत्रकारों और मीडिया कर्मियों को अपने कर्तव्य के दौरान सामना करने वाले खतरों और हिंसा पर प्रकाश डालता है। हर साल, 2 नवंबर को, यह दिन लोकतंत्र को बनाए रखने में स्वतंत्र प्रेस की महत्वपूर्ण भूमिका और सच्चाई को उजागर करने वालों की सुरक्षा की अनिवार्यता की मार्मिक याद दिलाता है।

मानवाधिकार और लोकतंत्र की जड़ों को मजबूत करने के साथ समाज के विकास के लिए स्वच्छ और सुंदर पत्रकारित आवश्यक है। बेहतर पत्रकारित के लिए जरूरी है पत्रकारों की सुरक्षा। भारत ही नहीं दुनिया भर में पत्रकारिता एक खतरनाक और घातक पेशा बन चुकी हैं। कई मीडिया कर्मी युद्ध, प्राकृतिक आपदा या अन्य खतरे वाले इलाके में रिपोर्टिंग के दौरान जान गंवाते हैं। वहीं रिपोर्ट छपने के बाद कई मीडिया कर्मियों की हत्या कर दी जाती है. हत्या के ज्यादातर मामलों में उन्हें न्याय नहीं मिल पाता है।

पत्रकारों की हत्या अनसुलझी न रहे और अपराध करने वालों को हर हाल में सजा मिले। इसी को लेकर हर साल 2014 से ‘पत्रकारों के खिलाफ अपराधों के लिए दण्ड से मुक्ति समाप्त करने के लिए अंतरराष्ट्रीय दिवस’ के रूप में मनाया जाता है। इस साल इस दिवस का फोकस ‘पत्रकारों के खिलाफ हिंसा, चुनाव की अखंडता और सार्वजनिक नेतृत्व की भूमिका’ पर फोकस है।

 

न्याय और जवाबदेही के प्रति प्रतिबद्धता

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने महासभा संकल्प ए/आरईएस/68/163 में 2 नवंबर को ‘पत्रकारों के खिलाफ अपराधों के लिए दण्ड से मुक्ति समाप्त करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय दिवस’ के रूप में घोषित किया। प्रस्ताव में सदस्य राज्यों से दंडमुक्ति की वर्तमान संस्कृति का मुकाबला करने के लिए निश्चित उपाय लागू करने का आग्रह किया गया। यह तारीख 2 नवंबर 2013 को माली में दो फ्रांसीसी पत्रकारों की हत्या की याद में चुनी गई थी।

यह ऐतिहासिक प्रस्ताव पत्रकारों और मीडियाकर्मियों के खिलाफ सभी हमलों और हिंसा की निंदा करता है। यह सदस्य देशों से पत्रकारों और मीडिया कर्मियों के खिलाफ हिंसा को रोकने, जवाबदेही सुनिश्चित करने, पत्रकारों और मीडिया कर्मियों के खिलाफ अपराध के अपराधियों को न्याय के दायरे में लाने और पीड़ितों को उचित उपचार तक पहुंच सुनिश्चित करने के लिए हरसंभव प्रयास करने का भी आग्रह करता है। इसमें राज्यों से पत्रकारों के लिए स्वतंत्र रूप से और अनुचित हस्तक्षेप के बिना अपना काम करने के लिए एक सुरक्षित और सक्षम वातावरण को बढ़ावा देने का आह्वान किया गया है।

 

Find More Important Days Here

National Unity Day or Rashtriya Ekta Diwas 2023_100.1

FAQs

विश्व हिंदी दिवस कब मनाया जाता है?

हर साल 10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस मनाया जाता है.