Home   »   अंतर्राष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस 2023: इतिहास...

अंतर्राष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस 2023: इतिहास और महत्व

अंतर्राष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस 2023: इतिहास और महत्व |_30.1

प्रतिवर्ष विश्व भर में 9 दिसम्बर को अंतर्राष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस (International Anti-Corruption Day) के रूप में मनाया जाता है। इसका उद्देश्य भ्रष्टाचार के विरुद्ध जागरूकता फैलाना है। हाल ही में ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल द्वारा एक सर्वेक्षण किया गया, उस सर्वेक्षण के मुताबिक एशिया के 74% लोगों का मानना ​​है कि सरकारी भ्रष्टाचार उनके देशों को परेशान करने वाली सबसे बड़ी समस्याओं में से एक है।

ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल के सर्वेक्षण में 17 देशों में 20,000 उत्तरदाता शामिल थे। पिछले 12 महीनों में सार्वजनिक सेवाओं तक पहुँचने के दौरान पाँच में से एक व्यक्ति (19 प्रतिशत) ने रिश्वत दी। भ्रष्टाचार किसी भी देश के विकास और संसाधनों के उचित बंटवारे में एक बड़ी बाधा है। इसलिए किसी भी देश के सर्वागीण विकास और संसाधनों के उत्तम उपयोग के लिए भ्रष्टाचार को समाप्त करना बेहद ज़रूरी है।

 

अंतर्राष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस

अंतर्राष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस की स्थापना 31 अक्टूबर, 2003 को संयुक्त राष्ट्र द्वारा प्रस्ताव पारित करने के बाद की गयी थी। वर्तमान में विश्व का कोई देश व क्षेत्र भ्रष्टाचार से अछूता नहीं है, भ्रष्टाचार का स्वरुप राजनीतिक, सामाजिक तथा आर्थिक हो सकता है। इस दिवस का आयोजन संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम तथा संयुक्त राष्ट्र ड्रग्स व अपराध कार्यालय द्वारा किया जाता है। इस दिवस पर कई सम्मेलन, अभियान इत्यादि शुरू किये जाते हैं, इसके द्वारा भ्रष्टाचार के सन्दर्भ में जागरूकता फैलाने का कार्य किया जाता है।

FAQs

विश्व पर्यावरण दिवस कब मनाया जाता है?

विश्व पर्यावरण दिवस (World Environment Day) पर्यावरण की सुरक्षा और संरक्षण हेतु पूरे विश्व में 5 जून को मनाया जाता है।