Home   »   National Smart City Awards 2022: सर्वश्रेष्ठ...

National Smart City Awards 2022: सर्वश्रेष्ठ शहर की रेस में इंदौर को मिला पहला स्थान

National Smart City Awards 2022: सर्वश्रेष्ठ शहर की रेस में इंदौर को मिला पहला स्थान |_30.1

देश की बेस्ट स्मार्ट सिटी का पुरस्कार इंदौर ने जीता है। केंद्र सरकार के स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत सबसे बेहतर काम करने के लिए इंदौर को बेस्ट स्मार्ट सिटी घोषित किया गया है। इंदौर के साथ भोपाल, जबलपुर, ग्वालियर और सागर की झोली में आए पुरस्कारों के दम पर प्रदेश के हिस्से में सबसे ज्यादा पुरस्कार आए। नतीजा देश में मप्र को स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत बेस्ट स्टेट का पुरस्कार भी दिया जा रहा है। पिछले साल अक्टूबर में इंदौर को लगातार छठी बार भारत का सबसे स्वच्छ शहर चुना गया था।

 

केंद्र शासित प्रदेशों में पहला स्थान

चंडीगढ़ ने केंद्र शासित प्रदेशों में पहला स्थान हासिल किया है। सर्वश्रेष्ठ राज्य की श्रेणी में तमिलनाडु दूसरे और राजस्थान तथा उत्तर प्रदेश संयुक्त रूप से तीसरे स्थान पर रहे। इंदौर सर्वश्रेष्ठ शहर की श्रेणी में सूरत और आगरा को पीछे छोड़कर विजेता बना। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु 27 सितंबर को इंदौर में आयोजित किए जा रहे समारोह में ये पुरस्कार वितरित करेंगी।

 

शीर्ष शहर और राज्य द्वारा मान्यता प्राप्त:

  • सर्वश्रेष्ठ शहर का पुरस्कार: इंडिया स्मार्ट सिटीज़ अवार्ड्स 2022 में इंदौर को सर्वश्रेष्ठ शहर का खिताब दिया गया है। शहर का एक उल्लेखनीय ट्रैक रिकॉर्ड है, जो लगातार छह वर्षों तक स्वच्छ भारत मिशन में सबसे स्वच्छ शहर के रूप में स्थान पर रहा है।
  • सर्वश्रेष्ठ राज्य का पुरस्कार: स्मार्ट सिटी मिशन में मध्य प्रदेश को सर्वश्रेष्ठ राज्य के रूप में मान्यता दी गई है। राज्य ने नागरिकों के जीवन की गुणवत्ता में सुधार लाने के उद्देश्य से बहु-क्षेत्रीय परियोजनाओं के कार्यान्वयन के माध्यम से शहरी विकास के लिए महत्वपूर्ण प्रतिबद्धता दिखाई है।

 

राज्य रैंकिंग:

दूसरा सर्वश्रेष्ठ राज्य: शहरी विकास और टिकाऊ परियोजनाओं में इसकी प्रगति को दर्शाते हुए, तमिलनाडु को राज्यों में दूसरे स्थान पर रखा गया।

संयुक्त रूप से तीसरा सर्वश्रेष्ठ राज्य: स्मार्ट सिटी मिशन में योगदान के लिए राजस्थान और उत्तर प्रदेश संयुक्त रूप से राज्यों में तीसरे स्थान पर हैं।

 

पुरस्कार श्रेणियाँ और विजेता परियोजनाएँ:

  • निर्मित पर्यावरण श्रेणी: कोयंबटूर की मॉडल सड़कों और झीलों की बहाली परियोजना को इस श्रेणी में शीर्ष परियोजना के रूप में मान्यता दी गई थी।
  • अर्थव्यवस्था श्रेणी: जबलपुर के ऊष्मायन केंद्र परियोजना को इसके आर्थिक प्रभाव के लिए शीर्ष स्थान से सम्मानित किया गया।
  • गतिशीलता श्रेणी: चंडीगढ़ की सार्वजनिक बाइक-शेयरिंग पहल गतिशीलता श्रेणी में अग्रणी रही।
  • गवर्नेंस श्रेणी: चंडीगढ़ ने गवर्नेंस श्रेणी में भी उत्कृष्ट प्रदर्शन किया, विशेष रूप से ई-गवर्नेंस सेवाओं में।
  • केंद्र शासित प्रदेश श्रेणी: चंडीगढ़ को भारत स्मार्ट सिटी पुरस्कारों में सर्वश्रेष्ठ केंद्र शासित प्रदेश होने का समग्र पुरस्कार मिला।

 

स्मार्ट सिटी मिशन: एक नजर में

केंद्र सरकार ने 25 जून 2015 को ‘स्मार्ट सिटी मिशन’ को लॉन्च किया था। इसका लक्ष्य नागरिकों को शहरों में जरूरी ढांचा, साफ-सुथरा और टिकाऊ वातावरण, क्वालिटी लाइफ प्रदान करना है। देश में शहरी विकास की कार्यप्रणाली में बदलावा लाने को लेकर इस परियोजना के तहत 100 शहरों को शामिल किया गया। स्मार्ट सिटी मिशन में कुल परियोजनाओं में से 1,10,635 करोड़ रुपये की 6,041 (76%) परियोजनाएं को पूरी किया जा चुका है। करीब 60,095 करोड़ रुपये की अन्य 1,894 परियोजनाएं 30 जून 2024 तक पूरी होने की संभावना है।

 

66 शहरों को पुरस्कार के लिए चुना गया

स्मार्ट सिटी अवार्ड कांटेस्ट 2022 की अलग-अलग श्रेणियों में देश के विभिन्न शहरों की कुल 845 प्रविष्टियां केंद्र के पास पहुंची थीं। इनमें से 66 शहरों को पुरस्कार के लिए चुना गया है। स्मार्ट सिटी के इस मुकाबले में अन्य छह श्रेणियों में भी पुरस्कार पाकर इंदौर सबसे ज्यादा पुरस्कार जीतने वाला सितारा शहर बनकर उभरा है।

 

Find More Ranks and Reports Here

 

National Smart City Awards 2022: सर्वश्रेष्ठ शहर की रेस में इंदौर को मिला पहला स्थान |_40.1

FAQs

मध्य प्रदेश की राजधानी कहाँ है?

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल है.