Home   »   मार्च 2024 में धीमी हुई औद्योगिक...

मार्च 2024 में धीमी हुई औद्योगिक उत्पादन की रफ्तार, 4.9 फीसदी रही आईआईपी ग्रोथ रेट

मार्च 2024 में धीमी हुई औद्योगिक उत्पादन की रफ्तार, 4.9 फीसदी रही आईआईपी ग्रोथ रेट |_3.1

देश की औद्योगिक उत्पादन की रफ्तार सुस्त हुई है। खनन क्षेत्र के खराब प्रदर्शन के चलते मार्च में घरेलू औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर मासिक आधार पर 4.9 प्रतिशत रही है, जो इसी वर्ष फरवरी में 5.6 प्रतिशत थी। मार्च 2023 के दौरान औद्योगिक उत्पाजन की दर 1.9 प्रतिशत थी। सांख्यिकीय मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, पूरे वित्त वर्ष के दौरान औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर 5.8 प्रतिशत रही है जो इससे पिछले वित्त वर्ष के दौरान 5.2 प्रतिशत थी।

आंकड़ों के अनुसार, मार्च में खनन क्षेत्र की वृद्धि दर घटकर 1.2 प्रतिशत रही है जो पिछले वर्ष समान अवधि में 6.8 प्रतिशत थी। मैन्यूफैक्चरिंग क्षेत्र की वृद्धि दर 5.2 प्रतिशत रही है जो पिछले वर्ष मार्च में 1.5 प्रतिशत थी। पिछले महीने बिजली उत्पादन में 8.6 प्रतिशत और कंज्यूमर ड्यूरेबल्स क्षेत्र में 9.5 प्रतिशत की वृद्धि रही है। कैपिटल गुड्स क्षेत्र की वृद्धि दर घटकर 6.1 प्रतिशत रही है जो पिछले वर्ष मार्च में 10 प्रतिशत थी।

 

उपभोक्ता गैर-टिकाऊ वस्तुओं का उत्पादन 4.9 प्रतिशत बढ़ा

मार्च 2023 में 1.9 प्रतिशत के संकुचन की तुलना में महीने के दौरान उपभोक्ता गैर-टिकाऊ वस्तुओं का उत्पादन 4.9 प्रतिशत बढ़ गया। आंकड़ों के अनुसार, बुनियादी ढांचे/निर्माण वस्तुओं ने मार्च 2024 में 6.9 की वृद्धि दर्ज की, जबकि एक साल पहले की अवधि में 7.2 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी।

 

प्राथमिक वस्तुओं के उत्पादन में 2.5 प्रतिशत की वृद्धि

आंकड़ों से यह भी पता चला है कि इस साल मार्च में प्राथमिक वस्तुओं के उत्पादन में 2.5 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई, जो एक साल पहले 3.3 प्रतिशत से कम थी। समीक्षाधीन महीने में मध्यवर्ती सामान खंड में विस्तार 5.1 प्रतिशत था, जो एक साल पहले इसी अवधि में दर्ज 1.8 प्रतिशत से अधिक था।

FAQs

औद्योगिक उत्पादन किसे कहते हैं?

औद्योगिक उत्पादन औद्योगिक प्रतिष्ठानों के उत्पादन को संदर्भित करता है और इसमें खनन, विनिर्माण, बिजली, गैस और भाप और एयर कंडीशनिंग जैसे क्षेत्र शामिल हैं। इस सूचक को संदर्भ अवधि के आधार पर एक सूचकांक में मापा जाता है जो उत्पादन उत्पादन की मात्रा में परिवर्तन को व्यक्त करता है।

TOPICS: