Home   »   औद्योगिक उत्पादन अगस्त में 10.3 प्रतिशत...

औद्योगिक उत्पादन अगस्त में 10.3 प्रतिशत बढ़कर 14 महीनों के उच्चतम स्तर पर

औद्योगिक उत्पादन अगस्त में 10.3 प्रतिशत बढ़कर 14 महीनों के उच्चतम स्तर पर_3.1

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (NSO) की ओर से जारी आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, अगस्त में भारत का औद्योगिक उत्पादन 10.3 प्रतिशत बढ़ा। औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (IIP) के अनुसार नवीनतम औद्योगिक उत्पादन में हुई बढ़ोतरी का आंकड़ा 14 महीने में सबसे ज्यादा है। औद्योगिक उत्पादन अपने 9.1 प्रतिशत के अनुमान से काफी ज्यादा है।

जुलाई में औद्योगिक विकास 5.7 प्रतिशत पर आ गई थी जो अब संशोधित होकर 6.0 प्रतिशत हो गई है। आपको बता दें कि अगस्त 2022 में औद्योगिक उत्पादन में 0.7 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई थी।

 

बीते साल आई थी गिरावट

चालू वित्त वर्ष में अप्रैल-अगस्त के दौरान आईआईपी वृद्धि 6.1 प्रतिशत रही, जो पिछले साल इसी अवधि में 7.7 प्रतिशत थी। राष्ट्रीय सांख्यिकीय कार्यालय (एनएसओ) के आंकड़ों के अनुसार, विनिर्माण क्षेत्र के उत्पादन में अगस्त में 9.3 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जबकि अगस्त, 2022 में इसमें 0.5 प्रतिशत की गिरावट आई थी।

आलोच्य महीने में खनन उत्पादन 12.3 प्रतिशत बढ़ा, जबकि पिछले साल अगस्त में इसमें 3.9 प्रतिशत की गिरावट आई थी। वहीं बिजली उत्पादन में 15.3 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जबकि पिछले साल इस दौरान 1.4 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी। उपयोग-आधारित वर्गीकरण के अनुसार, पूंजीगत सामान खंड में इस साल अगस्त में 12.6 प्रतिशत की वृद्धि हुई जो पिछले साल अगस्त में 4.3 प्रतिशत थी।

मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर का उत्पादन

एनएसओ द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक अगस्त 2023 में विनिर्माण क्षेत्र का उत्पादन 9.3 प्रतिशत बढ़ गया। इसी दौरान माइनिंग उत्पादन 12.3 प्रतिशत बढ़ा तो वहीं अगस्त 2023 में बिजली उत्पादन 15.3 प्रतिशत बढ़ा। मैन्यूफैक्चरिंग में बढ़ोतरी से रोजगार बढ़ता है तो कैपिटल गुड्स में बढ़ोतरी भविष्य में अधिक उत्पादन की तैयारी को बताता है। अगस्त में इंफ्रास्ट्रक्चर व कंस्ट्रक्शन गुड्स के उत्पादन में 14.9 प्रतिशत की बढ़ोतरी रही जो अर्थव्यवस्था में रियल एस्टेट की मांग में तेजी को दर्शाता है।

 

Find More News on Economy Here

औद्योगिक उत्पादन अगस्त में 10.3 प्रतिशत बढ़कर 14 महीनों के उच्चतम स्तर पर_4.1

FAQs

भारत औद्योगिक उत्पादन क्या है?

औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) एक सूचकांक है जो भारतीय अर्थव्यवस्था के विभिन्न औद्योगिक क्षेत्रों के प्रदर्शन को दर्शाता है । इसकी गणना और प्रकाशन हर महीने केंद्रीय सांख्यिकी संगठन (सीएसओ) द्वारा किया जाता है। यह अर्थव्यवस्था में औद्योगिक गतिविधि के सामान्य स्तर का एक समग्र संकेतक है।