Home   »   भारत का विदेशी मुद्रा भंडार घटकर...

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार घटकर 575.27 अरब डॉलर पर पहुंचा

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार घटकर 575.27 अरब डॉलर पर पहुंचा |_30.1

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने विदेशी मुद्रा भंडार (India Forex Reserves) से जुड़े ताजे आंकड़े जारी किए। यह हफ्ता विदेशी मुद्रा के लिए अच्छा साबित नहीं हुआ है। भारत का विदेशी मुद्रा भंडार में 1.494 अरब अमेरिकी डॉलर घट गया है। यह 3 फरवरी 2023 तक कुल 575.267 बिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंच गया है।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

अक्टूबर 2021 में था यह रिकार्ड

 

विदेशी मुद्रा भंडार के लिहाज से अक्टूबर 2021 सबसे अच्छा महीना था। उस महीने अपना विदेशी मुद्रा भंडार (Foreign Exchange Reserve) शानदार तरीके से बढ़ कर 645 अरब डॉलर तक पहुंच गया था। हालांकि, उसी समय डॉलर के मुकाबले रुपये की कीमत में लगातार कमी हो रही थी। इसलिए रिजर्व बैंक को रुपये की कीमत संभालने के लिए भारी मात्रा में डॉलर बाजार में बेचना पड़ा था। इससे अपने विदेशी मुद्रा भंडार पर असर पड़ा।

 

पिछले साल विदेशी मुद्रा भंडार में तेजी देखने को मिली थी, जो लगातार 3 सप्ताह तक जारी रही। भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 27 जनवरी को समाप्त सप्ताह में 6 महीने के उच्च स्तर पर 576.76 अरब डॉलर पर पहुंच गया है। डॉलर में अभिव्यक्त किये जाने वाले विदेशी मुद्रा आस्तियों में यूरो, पौंड और येन जैसे गैर अमेरिकी मुद्राओं में आई घट बढ़ के प्रभावों को भी शामिल किया जाता है। इस दौरान देश के सोने के भंडार (Gold reserves) के मूल्य में भी कमी हुई है। बीते तीन फरवरी को समाप्त सप्ताह के दौरान यह 24.6 करोड़ डॉलर घटकर 43.781 अरब डॉलर रह गया।

आंकड़ों के अनुसार, बीते सप्ताह के दौरान भारत के स्पेशल ड्रॉइंग राइट या विशेष आहरण अधिकार (SDR) में 6.6 करोड डॉलर की बढ़ोतरी हुई। अब यह बढ़ कर 18.544 अरब डॉलर पर पहुंच गया है। समीक्षाधीन सप्ताह में अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) में रखा देश का मुद्रा भंडार भी 90 लाख डॉलर बढ़कर 5.247 अरब डॉलर हो गया है।

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार घटकर 575.27 अरब डॉलर पर पहुंचा |_40.1

FAQs

विदेशी मुद्रा भंडार में पहला देश कौन सा है?

पहले स्थान पर चीन और दूसरे स्थान पर जापान है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *