Home   »   हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में शुरू...

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में शुरू हुआ भारत का पहला भिक्षु फल (monk fruit) उत्पादन अभ्यास

 

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में शुरू हुआ भारत का पहला भिक्षु फल (monk fruit) उत्पादन अभ्यास |_50.1

चीन से ‘भिक्षु फल’ (monk fruit), जो एक गैर-कैलोरी प्राकृतिक स्वीटनर के रूप में अपने गुणों के लिए जाना जाता है, हिमाचल प्रदेश में पालमपुर स्थित वैज्ञानिक अनुसंधान और औद्योगिक प्रौद्योगिकी संस्थान हिमालय जैव-संसाधन प्रौद्योगिकी संस्थान (Council of Scientific Research and Industrial Technology Institute of Himalayan Bio-resource Technology (CSIR-IHBT) कुल्लू द्वारा फील्ड परीक्षण के लिए पेश किया गया था। CSIR-IHBT द्वारा चीन से अपने बीज आयात करने और इसे घर में उगाने के तीन साल बाद फील्ड परीक्षण शुरू हो गया है।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

क्षेत्र परीक्षण के लिए रायसन गांव के प्रगतिशील किसान मानव खुल्लर (Manav Khullar) के खेतों में पचास पौधे लगाए गए और CSIR-IHBT ने मानव (Manav) के साथ एक ‘सामग्री हस्तांतरण समझौते’ (Material Transfer Agreement) पर हस्ताक्षर किए। नई फसल का आर्थिक लाभ 3 लाख रुपये से 3.5 लाख रुपये प्रति हेक्टेयर के बीच होने का अनुमान है। यह पौधा लगभग 16-20 डिग्री सेल्सियस के वार्षिक औसत तापमान और आर्द्र परिस्थितियों वाले पहाड़ी क्षेत्र को तरजीह देता है।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण टेकअवे:

  • हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल: बंडारू दत्तात्रेय (Bandaru Dattatreya);
  • हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री: जय राम ठाकुर (Jai Ram Thakur)।

Find More State In News Here

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में शुरू हुआ भारत का पहला भिक्षु फल (monk fruit) उत्पादन अभ्यास |_60.1

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *