Home   »   भारतीय स्काइडाइवर शीतल महाजन ने माउंट...

भारतीय स्काइडाइवर शीतल महाजन ने माउंट एवरेस्ट के पास इतिहास रचा

भारतीय स्काइडाइवर शीतल महाजन ने माउंट एवरेस्ट के पास इतिहास रचा |_30.1

भारत की प्रसिद्ध ‘स्काइडाइवर’ शीतल महाजन ने माउंट एवरेस्ट के सामने 21,500 फीट की ऊंचाई से हेलीकॉप्टर से छलांग लगाने वाली दुनिया की पहली महिला बनकर एक नई उपलब्धि हासिल की है। भारती के चौथे सर्वोच्च पुरस्कार पद्मश्री से सम्मानित और कई स्काइडाइविंग रिकॉर्ड धारक 41 वर्षीय महाजन ने 13 नवंबर को दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट के सामने वाले हिस्से में स्काइडाइविंग पूरी की।

उन्होंने अपने फेसबुक पेज पर लिखा कि मैंने माउंट एवरेस्ट के सामने 21,500 फुट से अपने जीवन की सर्वश्रेष्ठ छलांग लगाई और कालापत्थर 17,444 फुट / 5,317 मीटर की उच्चतम ऊंचाई पर उतरी। मैं सबसे अधिक ऊंचाई वाले स्काइडाइव लगाने वाली पहली महिला बन गई हूं।

 

12,500 फुट की ऊंचाई पर सफलतापूर्वक उतरी

इससे पहले 11 नवंबर को, महाजन ने 5,000 फुट एजीएल (जमीनी स्तर से ऊपर) से 17,500 फुट की ऊंचाई पर अपनी पहली छलांग लगाई थी, और वह न्यूजीलैंड के प्रसिद्ध ‘स्काइडाइवर’ वेंडी स्मिथ के साथ विमान में उनके प्रशिक्षक के रूप में काम करते हुए सयांगबोचे हवाई अड्डे पर 12,500 फुट की ऊंचाई पर सफलतापूर्वक उतरी थीं।

 

स्काईडाइव की एक उल्लेखनीय श्रृंखला

महाजन ने एवरेस्ट क्षेत्र में उच्च ऊंचाई वाले स्काईडाइव की एक उल्लेखनीय श्रृंखला पूरी की है। इससे पहले 11 नवंबर को, महाजन ने 5,000 फीट एजीएल (जमीनी स्तर से ऊपर) से 17,500 फीट की ऊंचाई पर अपनी पहली छलांग लगाई थी और न्यूजीलैंड के प्रसिद्ध स्काइडाइवर वेंडी स्मिथ के साथ विमान में उनके प्रशिक्षक के रूप में काम करते हुए सयांगबोचे हवाई अड्डे पर 12,500 फीट की ऊंचाई पर सफलतापूर्वक उतरी थीं।

सबसे ऊंचे झंडे वाली स्काइडाइविंग लैंडिंग

12 नवंबर को, महाजन ने स्काईडाइविंग लीजेंड कैमरावूमन वेंडी एलिजाबेथ स्मिथ और नादिया सोलोविएवा के साथ आठ हजार फीट से स्यांगबोचे हवाई अड्डे पर भारतीय ध्वज के साथ झंडा फहराया था।

 

Find More Miscellaneous News Here

भारतीय स्काइडाइवर शीतल महाजन ने माउंट एवरेस्ट के पास इतिहास रचा |_40.1

FAQs

दुनिया का सबसे बड़ा पर्वत कौन सा है?

माउंट एवरेस्ट