Home   »   भारतीय नौसेना द्वारा गुजरात में 25T...

भारतीय नौसेना द्वारा गुजरात में 25T बोलार्ड पुल टग ‘महाबली’ का अनावरण

भारतीय नौसेना द्वारा गुजरात में 25T बोलार्ड पुल टग 'महाबली' का अनावरण |_30.1

भारतीय नौसेना ने नौसेना के जहाजों और पनडुब्बियों को सहायता प्रदान करने, जहाजों को अग्निशमन सहायता प्रदान करने और सीमित खोज और बचाव अभियान चलाने के लिए 25T बोलार्ड पुल टग लॉन्च किया, जिसे ‘महाबली’ नाम दिया गया है।

कमोडोर सुनील कौशिक ने 28 अक्टूबर 2023 को गुजरात के भरूच में मेसर्स शॉफ्ट शिपयार्ड प्राइवेट लिमिटेड में ‘महाबली’ नामक जहाज, 25T बोलार्ड पुल टग का अनावरण किया गया। यह प्रक्षेपण न केवल भारत के नौसैनिक बेड़े में एक नई बढ़ोतरी का प्रतिनिधित्व करता है बल्कि रक्षा मंत्रालय की ‘मेक इन इंडिया’ पहल में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर भी है।

मेसर्स शॉफ्ट शिपयार्ड प्राइवेट लिमिटेड के साथ अनुबंध

‘महाबली’ और दो अन्य 25T बीपी टग्स का निर्माण और वितरण मेसर्स शॉफ्ट शिपयार्ड प्राइवेट लिमिटेड (एसएसपीएल) के साथ संपन्न अनुबंध का परिणाम था। इस शिपयार्ड, एक एमएसएमई (सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम) ने इस परियोजना को साकार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। यह अनुबंध भारत सरकार की आत्मनिर्भर भारत पहल, ‘आत्मनिर्भर भारत’ की व्यापक दृष्टि के अनुरूप है।

शिपिंग के भारतीय रजिस्टर के तहत वर्गीकरण

‘महाबली’ सहित 25T बीपी टग को भारतीय शिपिंग रजिस्टर (आईआरएस) के वर्गीकरण नियमों के तहत सावधानीपूर्वक बनाया गया है। यह वर्गीकरण सुनिश्चित करता है कि जहाज सुरक्षा और गुणवत्ता के मामले में उच्चतम मानकों को पूरा करते हैं, जो किसी भी नौसैनिक ऑपरेशन के लिए अनिवार्य है।

नौसेना संचालन को बढ़ाना

इन 25T बीपी टग्स का अधिग्रहण भारत की नौसैनिक क्षमताओं में महत्वपूर्ण वृद्धि है। ये जहाज विभिन्न तरीकों से भारतीय नौसेना (आईएन) की परिचालन प्रतिबद्धताओं को सुविधाजनक बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए तैयार हैं।

बर्थिंग और अन-बर्थिंग सपोर्ट

टग बर्थिंग और अन-बर्थिंग की चुनौतीपूर्ण प्रक्रियाओं के दौरान नौसेना के जहाजों और पनडुब्बियों की सहायता में सहायक होंगे। उनकी 25T बोलार्ड खींचने की क्षमता यह सुनिश्चित करती है कि सबसे बड़े जहाजों को भी सुरक्षित और कुशलता से चलाया जा सकता है।

नेविगेशनल सहायता

सीमित और जटिल जलमार्गों में, बड़े नौसैनिक जहाजों को मोड़ना और चलाना एक जटिल कार्य हो सकता है। 25T बीपी टग्स ऐसे चुनौतीपूर्ण पानी के माध्यम से इन जहाजों का मार्गदर्शन करने में अमूल्य सहायता प्रदान करेगा।

एफ़्लोट फाइरफाइटिंग एसिस्टेन्स

टग जहाज़ों के साथ-साथ और एंकोरेज पर अग्निशमन सहायता प्रदान करने के लिए भी सुसज्जित हैं। नौसैनिक अभियानों में, आग की घटनाएं भयावह हो सकती हैं, और टग्स की अग्निशमन क्षमताएं एक आवश्यक सुरक्षा उपाय हैं।

खोज एवं बचाव अभियान

बर्थिंग, नेविगेशन और अग्निशमन में उनकी सहायता के अलावा, टग सीमित खोज और बचाव अभियान भी चला सकते हैं। यह क्षमता समुद्र में आपातकालीन स्थितियों के दौरान जीवनरक्षक साबित हो सकती है।

Find More Defence News Here

भारतीय नौसेना द्वारा गुजरात में 25T बोलार्ड पुल टग 'महाबली' का अनावरण |_40.1

 

 

FAQs

भारत के रक्षा मंत्री कौन हैं?

राजनाथ सिंह

TOPICS: