Home   »   भारत ने आर्मेनिया के साथ 40...

भारत ने आर्मेनिया के साथ 40 मिलियन USD के रक्षा सौदे पर किए हस्ताक्षर

भारत ने आर्मेनिया के साथ 40 मिलियन USD के रक्षा सौदे पर किए हस्ताक्षर_3.1
भारत ने यूरोप में आर्मीनिया को 4 स्वदेशी निर्मित राडार (हथियारों का पता लगाने में सक्षम) की आपूर्ति करने का रक्षा सौदा किया। यह सौदा 40 मिलियन अमरीकी डालर का है। सरकार ने यह कदम देश के रक्षा क्षेत्र को बढ़ावा देना के लिए उठाया है। यह सौदा रक्षा क्षेत्र के ‘मेक इन इंडिया’ कार्यक्रम के लिए एक बड़ी उपलब्धि है।
इस सौदे के तहत, भारत आर्मीनिया को 4 SWATHI, हथियार का पता लगाने वाले राडार की आपूर्ति करेगा। इस रडार को रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) द्वारा विकसित किया जाएगा, और जिसे भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (BEL) द्वारा निर्मित किया जाएगा। इससे पहले अर्मेनियाई ने रूस और पोलैंड की रडार प्रणालियों का भी ट्रायल किया था, लेकिन उन्होंने भारतीय प्रणाली पर ही भरोसा जताया और इसे  मंजूरी किया। भारत ने अर्मेनिया को उपकरण की आपूर्ति  करने के लिए निर्यात शुरू कर दिया है।
SWATHI:-

SWATHI, हथियार का पता लगाने में मदद करेगा। यह अपने 50 किलोमीटर की सीमा में दुश्मन के हथियारों, जैसे शेल्स, मोर्टार और रॉकेट का जल्दी, स्वचालित और सटीक स्थान की जानकारी प्रदान करता है। इन हथियार में 81 मिमी (या उच्च कैलिबर मोर्टार), 105 मिमी (या उच्च कैलिबर शेल्स) और 120 मिमी (या उच्च कैलिबर फ्री उड़ान वाले रॉकेट) शामिल हैं। इन हथियार को डीआरडीओ के इलेक्ट्रॉनिक्स और रडार विकास प्रतिष्ठान (LRDE) द्वारा विकसित किया जा रहा है।

उपरोक्त समाचारों से आने-वाली परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण तथ्य-

  • आर्मीनिया की राजधानी: येरेवान .
  • आर्मेनिया की मुद्रा: अरमेनियाई दरम
  • .

TOPICS:

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *