Home   »   2024 में जी20 की मेजबानी करेगा...

2024 में जी20 की मेजबानी करेगा ब्राजील, भारत ने सौंपी बी20 की अध्यक्षता

2024 में जी20 की मेजबानी करेगा ब्राजील, भारत ने सौंपी बी20 की अध्यक्षता_3.1

भारत ने 2024 में जी20 की मेजबानी के लिए ब्राजील को बी20 की अध्यक्षता सौंपी है। रविवार को राजधानी दिल्ली में बी20 शिखर सम्मेलन, 2023 के समापन सत्र में अगले साल की अध्यक्षता ब्राजील को दी गई। इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने दिल्ली में वैश्विक व्यापार समुदाय के साथ बिजनेस-20 शिखर सम्मेलन (B-20 Summit) को संबोधित किया।

वहीं बी-20 बिजनेस समिट में टाटा संस के चेयरमैन एन.चंद्रशेखरन ने कहा कि भारत की बी20 अध्यक्षता ने PM मोदी के ‘वसुदेव कटुंबकम’ (एक पृथ्वी, एक परिवार, एक भविष्य) के दृष्टिकोण के विषय के तहत काम किया। उन्होंने कहा कि पिछले 7 महीनों के दौरान हमने 55 देशों में 1,500 से अधिक वैश्विक व्यापार अधिकारियों और विशेषज्ञों के साथ जुड़े।

 

त्योहारों का सीजन 23 अगस्त से

B20 बिजनेस समिट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस बार भारत में त्योहारों का सीजन 23 अगस्त से शुरू हो गया है। यह जश्न चंद्रमा पर चंद्रयान के पहुंचने का है। भारत के चंद्र मिशन की सफलता में ISRO ने अहम भूमिका निभाई है।

 

भारत ने 150 से ज्यादा देशों को दवाएं मुहैया कराईं

B-20 बिजनेस समिट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 2-3 साल पहले हम सबसे बड़ी महामारी से गुजर रहे थे। इस महामारी ने हर देश, समाज, बिजनेस सेक्टर और कॉरपोरेट इकाई को एक सबक दिया, सबक यह दिया है कि हमें सबसे ज़्यादा आपसी विश्वास पर निवेश करने की ज़रूरत है। भारत ने आपसी महामारी के दौरान दुनिया पर भरोसा। कोविड के दौरान भारत ने 150 से ज्यादा देशों को दवाएं मुहैया कराईं।

 

B20 की भारत की अध्यक्षता

जी20 शिखर सम्मेलन में व्यापारिक समुदाय का प्रतिनिधित्व करने वाले समूह बी20 ने नीतियों को आकार देने और कई महत्वपूर्ण वैश्विक चुनौतियों पर चर्चा को बढ़ावा देने में भारत के नेतृत्व में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। एन.चंद्रशेखरन के नेतृत्व में, भारत की अध्यक्षता में बी20 की अध्यक्षता “वासुदेव कटुम्बकम” – एक पृथ्वी, एक परिवार, एक भविष्य के विषय पर केंद्रित थी।

 

B20 समिट की थीम

25 अगस्त से 27 अगस्त तक भारत द्वारा आयोजित तीन दिवसीय B20 शिखर सम्मेलन की थीम “R.A.I.S.E” थी – जिम्मेदार, त्वरित, अभिनव, टिकाऊ और न्यायसंगत व्यवसाय। यह विषय उन मूल आदर्शों का सारांश प्रस्तुत करता है जिन्हें B20 का प्रचार और प्राथमिकता देना है। शिखर सम्मेलन ने लगभग 55 देशों का प्रतिनिधित्व करने वाले 1,500 से अधिक प्रतिनिधियों को एक साथ लाया, जिससे व्यावहारिक चर्चा और बहुआयामी विचार-विमर्श के लिए अनुकूल माहौल तैयार हुआ।

 

प्रधानमंत्री मोदी का मुख्य भाषण

शिखर सम्मेलन के समापन दिवस पर, भारतीय प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने एक मुख्य भाषण दिया, जिसमें वैश्विक चुनौतियों से निपटने में व्यापारिक समुदाय और सरकारों के बीच सहयोग के महत्व को रेखांकित किया गया। यह संबोधन केवल आयोजन का निष्कर्ष नहीं था, बल्कि सतत आर्थिक विकास के लिए एकता और सहयोग को बढ़ावा देने की भारत की प्रतिबद्धता की पुष्टि थी।

 

Find More News related to Summits and Conferences

 

B20 Summit India 2023 Highlights and Key Points_100.1

FAQs

G20 क्या है और इसका उद्देश्य क्या है?

G20 सरकारों और सेंट्रल बैंक के लिए एक अंतरराष्ट्रीय मंच है. इसके सदस्यों की संख्या के आधार पर इसका नाम G20 रखा गया है. ग्रुप ऑफ ट्वेंटी (G20) G20 समूह अंतरराष्ट्रीय आर्थिक सहयोग, आतंकवाद, मानव तस्करी, ग्लोबल वार्मिंग जैसे अहम मुद्दों पर राय तय करने का मुख्य मंच है.