Home   »   भारत नवगठित विश्व मुक्केबाजी निकाय में...

भारत नवगठित विश्व मुक्केबाजी निकाय में हुआ शामिल

भारत नवगठित विश्व मुक्केबाजी निकाय में हुआ शामिल_3.1

बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (BFI) ने महत्वपूर्ण कदम उठाकर विश्व बॉक्सिंग (WB) में शामिल होने के लिए सहमति दी है, जो एक नए गवर्निंग बॉडी है जिसे अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति (IOC) ने अंतरराष्ट्रीय बॉक्सिंग एसोसिएशन (IBA) को मान्यता न देने के बाद बनाया गया है। यह कदम बांगकॉक में चल रहे विश्व ओलंपिक क्वालीफायर में लिया गया है, जहां WB के कार्यकारी बोर्ड द्वारा BFI की स्वीकृति की पुष्टि की जाएगी।

WB और IBA के बीच संतुलन अधिनियम

ओलंपिक में भारतीय मुक्केबाजों की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए विश्व बैंक में शामिल होना आवश्यक हो गया है, बीएफआई का लक्ष्य खेल और उसके एथलीटों की खातिर आईबीए द्वारा आयोजित कार्यक्रमों में भाग लेना जारी रखना है। हालांकि, इस फैसले पर आईबीए के निर्णय के प्रति प्रतिक्रिया का इंतजार है।

भारत विश्व बैंक के मूल सदस्यों के रूप में संयुक्त राज्य अमेरिका, कनाडा, स्वीडन, जर्मनी और ग्रेट ब्रिटेन जैसे देशों में शामिल हो गया है। दिलचस्प है कि IBA की वेबसाइट के अनुसार, BFI के अध्यक्ष अजय सिंह IBA के उपाध्यक्ष बने रहेंगे।

IOC की कड़ी चेतावनी

IOC ने पहले चेतावनी दी थी कि कोई भी मुक्केबाज जिसका राष्ट्रीय महासंघ आईबीए का पालन करता है, उसे लॉस एंजिल्स 2028 में ओलंपिक खेलों से बाहर कर दिया जाएगा। आईबीए द्वारा पेरिस खेलों में ओलंपिक पदक विजेताओं के लिए पुरस्कार राशि की घोषणा के बाद आईओसी के रुख को और मजबूती मिली।

बीएफआई के अध्यक्ष अजय सिंह ने कहा कि भारत आईबीए और उसके सदस्यों पर आईओसी की स्थिति को ध्यान में रखते हुए कुछ समय से डब्ल्यूबी के साथ बातचीत कर रहा था। उन्होंने आईओसी के बयान पर प्रकाश डाला, जिसमें जोर देकर कहा गया कि बीएफआई का निर्णय मुक्केबाजों के लाभों को ध्यान में रखते हुए रणनीतिक था।

विश्व बैंक के लक्ष्य और भारत की महत्वपूर्ण भूमिका

मुक्केबाजी को ओलंपिक कार्यक्रम के हिस्से के रूप में रखने के लिए पिछले साल गठित विश्व बैंक का लक्ष्य लॉस एंजिल्स खेलों के लिए खेल को जल्द से जल्द खेल पुनः स्थापित करना है। सिंह ने विश्व बैंक के एशियाई परिसंघ की स्थापना और संभावित रूप से नई दिल्ली में इसकी मेजबानी करने में अग्रणी भूमिका निभाने के लिए भारत की प्रतिबद्धता व्यक्त की।

डब्ल्यूबी आईओसी के संपर्क में रहा है, विशेष रूप से जब कोर्ट ऑफ़ आर्बिट्रेशन फॉर स्पोर्ट्स (सीएएस) ने IBA की मान्यता के खिलाफ फैसला किया। डब्ल्यूबी के मुख्य बोरिस वैन डे वोर्स्ट ने 2024 के अंत तक प्रायोगिक मान्यता पुनः प्राप्त करने और 2025 के प्रारंभ में बॉक्सिंग को ओलंपिक में शामिल करने के लिए निर्दिष्ट आवश्यकताओं को पूरा करने की आवश्यकता को जोर दिया।

ओलंपिक की मान्यता के लिए 50 सदस्यों का लक्ष्य

विश्व बैंक ने ओलंपिक के लिए अस्थायी मान्यता हासिल करने के लिए 50 सदस्य देशों को सुरक्षित करने का लक्ष्य रखा है। वर्तमान में, उनके पास 30 सदस्य हैं, और वैन डे वोर्स्ट ने भारत की मदद से एशिया में खेल को विकसित करने के महत्व को हाइलाइट किया।

एशियाई कंफेडरेशन और केंद्रीय एशियाई राष्ट्र

बीएफआई प्रमुख ने उल्लेख किया कि एशियाई परिसंघ में मध्य और दक्षिण एशियाई देश शामिल होंगे। हालांकि, पारंपरिक रूप से आईबीए के करीब देखे जाने वाले मध्य एशियाई देशों का रुख बैंकॉक में घटनाओं के रूप में देखा जाना बाकी है।

FAQs

IBA की वेबसाइट के अनुसार, कौन IBA के उपाध्यक्ष बने रहेंगे?

IBA की वेबसाइट के अनुसार, BFI के अध्यक्ष अजय सिंह IBA के उपाध्यक्ष बने रहेंगे।

TOPICS: