Home   »   6 दिसंबर को मैत्री दिवस के...

6 दिसंबर को मैत्री दिवस के रूप में मनाएगा भारत और बांग्लादेश

 

6 दिसंबर को मैत्री दिवस के रूप में मनाएगा भारत और बांग्लादेश |_30.1

भारत और बांग्लादेश ने 6 दिसंबर को मनाने का फैसला किया है, जिस दिन भारत ने औपचारिक रूप से बांग्लादेश को “मैत्री दिवस (Maitri Diwas)” (फ्रेंडशिप डे) के रूप में मान्यता दी थी। मार्च 2021 में बांग्लादेश के राष्ट्रीय दिवस में भाग लेने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की बांग्लादेश यात्रा के दौरान, 6 दिसंबर को मैत्री दिवस (फ्रेंडशिप डे) के रूप में मनाने का निर्णय लिया गया था। बांग्लादेश की आजादी से दस दिन पहले भारत ने 6 दिसंबर 1971 को बांग्लादेश को मान्यता दे दी थी। भारत बांग्लादेश के साथ द्विपक्षीय राजनयिक संबंध स्थापित करने वाले पहले देशों में से एक था।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

हिन्दू रिव्यू अक्टूबर 2021, Download Monthly Hindu Review PDF in Hindi

विदेश मंत्रालय की ओर से जारी संयुक्त बयान के मुताबिक, प्रधान मंत्री मोदी ने इस बात पर प्रकाश डाला कि आधुनिक समय के महानतम नेताओं में से एक बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान (Bangabandhu Sheikh Mujibur Rahman) को उनके साहस और बांग्लादेश के एक संप्रभु देश के रूप में उभरने में अमिट योगदान के लिए याद किया जाएगा।

मैत्री दिवस के बारे में:

  • मैत्री दिवस ढाका और दिल्ली के अलावा दुनिया भर के 18 देशों में मनाया जा रहा है। ये देश हैं बेल्जियम, कनाडा, मिस्र, इंडोनेशिया, रूस, कतर, सिंगापुर, यूके, ऑस्ट्रेलिया, फ्रांस, जापान, मलेशिया, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, स्विट्जरलैंड, थाईलैंड, यूएई और यूएसए।
  • मैत्री दिवस का आयोजन भारत और बांग्लादेश के लोगों के बीच गहरी और स्थायी मित्रता का प्रतिबिंब है जो रक्त और साझा बलिदान में फॉर्ज्ड है।

Find More National News Here

6 दिसंबर को मैत्री दिवस के रूप में मनाएगा भारत और बांग्लादेश |_40.1

TOPICS:

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *