Home   »   आईआईटी-मद्रास में शोधार्थी की आत्महत्या पर...

आईआईटी-मद्रास में शोधार्थी की आत्महत्या पर समिति ने बनाई जांच समिति

आईआईटी-मद्रास में शोधार्थी की आत्महत्या पर समिति ने बनाई जांच समिति |_30.1

31 मार्च 2023 को, भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान-मद्रास में अनुसंधान विद्यार्थी सचिन कुमार जैन ने आत्महत्या की, जिसने संस्थान को मामले की जाँच करने के लिए एक जांच समिति बनाने के लिए प्रेरित किया है।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

आईआईटी-मद्रास में शोधार्थी की आत्महत्या पर समिति ने बनाई जांच समिति |_40.1

पूर्व डीजीपी जी. तिलकावती होंगे पांच सदस्यीय जांच समिति के प्रमुख

25 अप्रैल को नियुक्त पांच सदस्यीय जांच समिति, पूर्व तमिलनाडु डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (DGP) जी. तिलकवती द्वारा अध्यक्षता की जाएगी। समिति सचिन कुमार जैन की आत्महत्या के कारणों की जांच करेगी और अपने फिंडिंग्स की रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी।

जांच समिति के अन्य सदस्य:

जांच समिति के अन्य सदस्य जी. तिलकवती के अलावा हैं:

  • डी. सबिथा, पूर्व IAS अधिकारी
  • कन्नेगी पैकियनाथन, पूर्व IAS अधिकारी
  • प्रोफेसर रवींद्र गत्तू, भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान-मद्रास के एक शिक्षक सदस्य
  • अमल मनोहरन, भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान-मद्रास के एक अनुसंधान विद्यार्थी

जैन द्वारा सामना किए जाने वाले संभावित शैक्षणिक या व्यक्तिगत दबावों की जांच करने के लिए समिति:

जांच समिति जांच करेगी कि क्या जैन कोई ऐसे शैक्षणिक या व्यक्तिगत दबावों का सामना कर रहा था जो उनकी आत्महत्या में योगदान कर सकते थे। यह भी देखेगी कि जैन के लिए कौनसी सहायता प्रणाली उपलब्ध थी और संस्थान की मानसिक स्वास्थ्य सहायता सेवाओं में कोई भी संभावित लापरवाहियों का अध्ययन करेगी।

FAQs

पूर्व तमिलनाडु डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (DGP) कौन हैं ?

पूर्व तमिलनाडु डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (DGP) जी. तिलकवती हैं।