Home   »   LIC से सरकार को मिलेगा 3662...

LIC से सरकार को मिलेगा 3662 करोड़ रुपए का डिविडेंड

LIC से सरकार को मिलेगा 3662 करोड़ रुपए का डिविडेंड_3.1

LIC ने हाल ही में अपने तिमाही नतीजे पेश किए हैं। चौथी तिमाही में बीमा कंपनी का नेट प्रॉफिट 2 फीसदी बढ़कर 13,763 करोड़ रुपए रहा है। कंपनी को वित्त वर्ष 2023 की समान तिमाही में 13,428 करोड़ रुपए का नेट प्रॉफिट हुआ था। शुद्ध मुनाफा बढ़ने से कंपनी ने 6 रुपए प्रति शेयर डिविडेंड देने का ऐलान भी किया है। एलआईसी में सरकार की लगभग 96.5 फीसदी हिस्सेदारी है, जिसके चलते अब कंपनी सरकार को भी 3662 करोड़ रुपए का गिफ्ट देगी। LIC से पहले रिजर्व बैंक ने भी 2.11 लाख करोड़ का डिविडेंड सरकार को देने का ऐलान किया था।

दरअसल, देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी भारतीय जीवन बीमा नियम ने सरकार को 3,662 करोड़ रुपये डिविडेंड ट्रांसफर करने का ऐलान किया है। एलआईसी ने कहा कि वह इस साल सरकार को 3,662 करोड़ रुपये डिविडेंड ट्रांसफर करेगी। बता दें कि एलआईसी की सबसे बड़ी शेयरधारक सरकार और इसके पास सरकारी बीमा कंपनी की 96.50 प्रतिशत हिस्सेदारी है।

कुल इनकम 2,50,923 करोड़ रुपए हो गई

एलआईसी ने रेगुलेटरी फाइलिंग में बताया कि चौथी तिमाही में कंपनी की कुल इनकम 2,50,923 करोड़ रुपए हो गई है। वित्त वर्ष 2023 की सामान तिमाही में यह 2,00,185 करोड़ रुपए रही थी। जनवरी-मार्च तिमाही में एलआईसी का एनुअल प्रीमियम भी 10.7 फीसदी बढ़कर 21,180 करोड़ रुपए हो गया, जो कि पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 19,137 करोड़ रुपए रहा था। हालांकि, एलआईसी के न्यू बिजनेस में 1.6 फीसदी की गिरावट आई है। यह पिछले वित्त वर्ष के 3,704 करोड़ रुपए के मुकाबले वित्त वर्ष 2024 की चौथी तिमाही में 3,645 करोड़ रुपए ही रहा है।

फर्स्ट ईयर प्रीमियम भी बढ़ा

जनवरी-मार्च तिमाही में एलआईसी का फर्स्ट ईयर प्रीमियम भी बढ़ा है। यह आंकड़ा 13,810 करोड़ रुपए पर पहुंच गया है। वित्त वर्ष 2024 की सामान तिमाही में फर्स्ट ईयर प्रीमियम 12,811 करोड़ रुपए ही था। रिन्यूअल प्रीमियम भी इस अवधि में बढ़कर 77,368 करोड़ रुपए हो गया है, जो कि वित्त वर्ष 2023 की समान अवधि में 76,009 करोड़ रुपए रहा था।

FAQs

देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी कौन सी है?

एलआईसी

TOPICS: