Home   »   भारत का विदेशी मुद्रा भंडार बढ़कर...

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार बढ़कर 596.280 अरब डॉलर के पार: RBI आंकड़ों का विश्लेषण

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार बढ़कर 596.280 अरब डॉलर के पार: RBI आंकड़ों का विश्लेषण |_30.1

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के आंकड़ों के अनुसार, भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 1.229 अरब डॉलर बढ़कर कुल 596.280 अरब डॉलर हो गया है। यह लगभग 2 महीने के उच्च स्तर और भंडार में लगातार दूसरी साप्ताहिक वृद्धि को दर्शाता है। विदेशी मुद्रा भंडार में वृद्धि मुख्य रूप से विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों (FCA) और स्वर्ण भंडार में वृद्धि से प्रेरित थी, जबकि विशेष आहरण अधिकार (SDRs) में मामूली गिरावट देखी गई।

भारतीय रिजर्व बैंक के आंकड़ों के अनुसार, सात जुलाई, 2023 को समाप्त सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार 1.229 अरब डॉलर बढ़कर 596.280 अरब डॉलर हो गया। इससे पहले इसमें 1.853 अरब डॉलर की वृद्धि हुई थी। विदेशी मुद्रा भंडार का सबसे बड़ा घटक, विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों (एफसीए) में 98.9 करोड़ डॉलर की उल्लेखनीय वृद्धि देखी गई और यह 528.968 अरब डॉलर तक पहुंच गया। स्वर्ण भंडार भी 22.8 करोड़ डॉलर बढ़कर 44.060 अरब डॉलर हो गया, जबकि अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (SDRs) में आरक्षित स्थिति 1.5 करोड़ डॉलर बढ़कर 5.017 अरब डॉलर हो गई।

इसके विपरीत, विशेष आहरण अधिकार (SDRs) में 40 लाख डॉलर की मामूली गिरावट आई और यह सात जुलाई, 2023 को समाप्त सप्ताह में 18.235 अरब डॉलर पर आ गया।

रुपये के अवमूल्यन को कम करने के लिए, आरबीआई स्पॉट और फॉरवर्ड पोजिशन दोनों के माध्यम से विदेशी मुद्रा बाजार में सक्रिय रूप से हस्तक्षेप कर रहा है। शुक्रवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपये में थोड़ी गिरावट दर्ज की गई। हालांकि, डॉलर में बिकवाली और फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों में बढ़ोतरी के करीब पहुंचने की उम्मीद के कारण यह चार सप्ताह में सबसे अच्छा सप्ताह रहा। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में रुपया 82.1615 प्रति डॉलर पर बंद हुआ, जिसमें 14 जुलाई, 2023 को समाप्त हुए कारोबारी सप्ताह के दौरान 0.5% की तेजी दर्ज की गई।

Find More News on Economy Here

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार बढ़कर 596.280 अरब डॉलर के पार: RBI आंकड़ों का विश्लेषण |_40.1

FAQs

आरबीआई के गवर्नर कौन है ?

आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास हैं।