Home   »   राजस्थान में पहली बार किसी ट्रांसजेंडर...

राजस्थान में पहली बार किसी ट्रांसजेंडर को मिला ‘जन्म का प्रमाण’

राजस्थान में पहली बार किसी ट्रांसजेंडर को मिला 'जन्म का प्रमाण' |_30.1

राजस्थान में जयपुर ग्रेटर नगर निगम की ओर से राज्य का पहला ट्रांसजेंडर जन्म प्रमाण पत्र जारी किया गया। आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग के निदेशक और जन्म मृत्यु के चीफ रजिस्ट्रार भंवरलाल बैरवा ने यह प्रमाण पत्र नूर शेखावत को दिया। नूर शेखावत ने 10 दिन पहले निगम में जन्म प्रमाण पत्र के लिए आवेदन किया था।

इसी के साथ नूर राजस्थान में बर्थ सर्टिफिकेट हासिल करने वाली ऐसी पहली ट्रांसजेंडर बन गई हैं। चीफ रजिस्ट्रार बैरवा ने बताया कि नूर शेखावत को पहला थर्ड जेंडर को जन्म प्रमाण पत्र जारी किया गया है। अब तक पुरुष और महिला के ही जन्म का रिकॉर्ड ही हमारे पास मिलता था। अब हमारे पोर्टल पर थर्ड जेंडर का भी रिकॉर्ड मिलेगा।

थर्ड जेंडर का प्रमाण पत्र लेने के बाद नूर शेखावत ने खुशी जताई। उन्होंने बताया कि 12वीं तक पढ़ाई की है। नूर का कहना है कि कि समाज में थर्ड जेंडर समुदाय भी है। इसे समाज में उतने ही अधिकार दिए जाने चाहिए, जितने कि आम आदमी को है। उनके पुराने जन्म प्रमाण-पत्र में उनका लिंग पुरुष दर्ज था। 31-वर्षीय नूर ने कहा कि वह अब अपनी 10वीं और 12वीं कक्षा की मार्कशीट में भी लिंग बदलवाना चाहती हैं।

 

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण बातें:

  • राजस्थान की राजधानी: जयपुर
  • राजस्थान के मुख्यमंत्री: अशोक गहलोत
  • राजस्थान के राज्यपाल: कलराज मिश्र

Find More State In News Here

राजस्थान में पहली बार किसी ट्रांसजेंडर को मिला 'जन्म का प्रमाण' |_40.1

FAQs

राजस्थान में सबसे बड़ा जिला कौन सा है?

क्षेत्रफल की दृष्टि से जैसलमेर राजस्थान का सबसे बड़ा जिला है।