Home   »   FAO ने GIAHS के रूप में...

FAO ने GIAHS के रूप में 14 नये स्थल नामित किये

FAO ने GIAHS के रूप में 14 नये स्थल नामित किये |_20.1
2016 के बाद से, यूरोप में पहले स्थल सहित, ग्लोबली इम्पोर्टेन्ट एग्रीकल्चर हेरिटेज सिस्टम (GIAHS) के रूप में चौदह नये स्थल को नामित किया गया है. अन्य नामित स्थलों के साथ, ये व्यवस्था कृषि परंपराओं को दर्शाते है जो स्थिरता को बढ़ावा देती हैं, जैव विविधता की रक्षा करती है और स्थिर, सभ्य जीवन शैली के लिए आवश्यक सामाजिक और आर्थिक विकास का समर्थन करते हुए पर्यावरण की रक्षा करते है.

14 नये स्थल ओसेस से लेकर चावल के खेत, किशमिरी के उत्पादन के लिए वसाबी खेती तक है. 14 नये स्थल हैं:
  1. सिवा ओएसिस, मिस्र 2016. 
  2. जोचिमिल्को, त्लाहुआक और मिल्पा अल्टा, मेक्सिको 2017 में चिनामापा कृषि विश्व में प्राकृतिक और सांस्कृतिक धरोहर क्षेत्र
  3. झागना कृषि-पशु-पशुपालन समग्र प्रणाली, चीन 2017
  4. हुज़ौ शहतूत-डाइक और मछली तालाब प्रणाली, चीन 2017. 
  5. ओसाकी कोोडो के पारंपरिक पानी प्रबंधन प्रणाली के लिए पारंपरिक जल प्रबंधन प्रणाली, जापान 2017. 
  6. निशी-अवा खड़ी ढाल भूमि कृषि प्रणाली, जापान 2018. 
  7. हग्गई-म्युन में पारंपरिक हदोंग चाय एग्रोससिस्टम, कोरिया गणराज्य 2017. 
  8. वैले सलोदो डी अनाना की कृषि प्रणाली, स्पेन 2017. 
  9. ला एक्सरेक्विया में मैलागा रेसीन उत्पादन प्रणाली, स्पेन 2017. 
  10. कैस्केड टैंक-ग्राम प्रणाली, श्रीलंका 2017. 
  11. दक्षिणी पहाड़ी और पहाड़ी इलाकों में राइस टेरेस ,चीन 2018.  
  12. क्सिअजिन येलो रिवर ओल्ड कोर्स ऐंसीएंट मुल्बोरी ग्रोव सिस्टम, चीन 2018. 
  13. शिजुओका में पारंपरिक वसाबी खेती, जापान 2018.
  14. बैरोसो एग्रो-सिल्वो-पेस्टोरल सिस्टम,पुर्तगाल 2018.
स्रोत- fao.org

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *