Home   »   DRDO ने किया स्वदेशी विकसित MPATGM...

DRDO ने किया स्वदेशी विकसित MPATGM का सफलतापूर्वक उड़ान परीक्षण

 

DRDO ने किया स्वदेशी विकसित MPATGM का सफलतापूर्वक उड़ान परीक्षण |_50.1

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (Defence Research and Development Organisation – DRDO) ने अपनी न्यूनतम सीमा के लिए स्वदेशी रूप से विकसित तीसरी पीढ़ी की मैन-पोर्टेबल एंटीटैंक गाइडेड मिसाइल (Man-Portable Antitank Guided Missile-MPATGM) का सफलतापूर्वक उड़ान परीक्षण किया। मिसाइल को एक थर्मल साइट के साथ एकीकृत एक मानव-पोर्टेबल लांचर (man-portable launcher) से लॉन्च किया गया था, और सभी मिशन उद्देश्यों को पूरा किया गया था।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

मिसाइल के बारे में:

  • मिसाइल का अधिकतम रेंज के लिए पहले ही उड़ान परीक्षण किया जा चुका है।
  • MPATGM एक कम वजन, आग और फॉर्गेट मिसाइल है, जिसे उन्नत एवियोनिक्स (advanced avionics) के साथ-साथ अत्याधुनिक लघु इन्फ्रारेड इमेजिंग सीकर (Infrared Imaging Seeker) के साथ शामिल किया गया है।
  • इसे भारतीय सेना की युद्धक क्षमताओं को मजबूत करने के लिए विकसित किया जा रहा है।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण टेकअवे:

  • डीआरडीओ अध्यक्ष: डॉ जी सतीश रेड्डी (Dr G Satheesh Reddy)।
  • डीआरडीओ मुख्यालय: नई दिल्ली।
  • डीआरडीओ की स्थापना: 1958।

Find More News Related to Defence

DRDO ने किया स्वदेशी विकसित MPATGM का सफलतापूर्वक उड़ान परीक्षण |_60.1

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

TOPICS:

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *