Home   »   अमित शाह ने 8,000 करोड़ रुपये...

अमित शाह ने 8,000 करोड़ रुपये की आपदा प्रबंधन योजनाओं का किया एलान

अमित शाह ने 8,000 करोड़ रुपये की आपदा प्रबंधन योजनाओं का किया एलान_3.1

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने 13 जून 2023 को आपदा प्रबंधन के लिए 8,000 करोड़ रुपये से अधिक की तीन प्रमुख योजनाओं की घोषणा की। गृह मंत्री अमित शाह ने विज्ञान भवन में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के आपदा प्रबंधन विभागों के साथ बैठक की अध्यक्षता की। गृह मंत्री अमित शाह ने आपदा प्रबंधन के लिए महत्वपूर्ण घोषणा की है, जिसके लिए आठ हजार करोड़ का बजट तय किया गया है। उन्होंने योजनाओं के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि राज्यों में प्रबंधन के लिए आधुनिक सेवाओ और उसके विस्तार के लिए 5000 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

मुख्य बिंदु

 

  • 2500 करोड़ रुपये का इस्तेमाल मुंबई, चेन्नई, कोलकाता, बेंगलुरु, हैदराबाद, अहमदाबाद और पुणे जैसे शहरों में बाढ़ के खतरे को कम करने के लिए किया जाएगा।
  • इसके अतिरिक्त राष्ट्रीय भूस्खलन जोखिम शमन योजना के तहत 825 करोड़ रुपये 17 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए खर्च किए जाएंगे।
  • राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के आपदा प्रबंधन मंत्रियों की बैठक के बाद शाह ने कहा कि पिछले नौ साल में केंद्र सरकार ने इस क्षेत्र में काफी कुछ हासिल किया है।
  • शाह ने स्कीमों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि राज्यों में प्रबंधन के लिए आधुनिक सेवाओ और उसके विस्तार के लिए 5000 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।
  • 2500 करोड़ रुपये का इस्तेमाल मुंबई, चेन्नई, कोलकाता, बेंगलुरु, हैदराबाद, अहमदाबाद और पुणे जैसे शहरों में बाढ़ के खतरे को कम करने के लिए किया जाएगा।
  • इसके अलावा राष्ट्रीय भूस्खलन जोखिम शमन योजना के तहत 825 करोड़ रुपये 17 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए खर्च किए जाएंगे।

यह नई योजना किन विषयों का पालन करेगी?

बैठक में आपदा तैयारी, शमन, प्रतिक्रिया, परमाणु ऊर्जा संयंत्र सुरक्षा, पूर्व चेतावनी प्रणाली, शमन निधि उपयोग और आपदा प्रबंधन प्राधिकरणों को मजबूत करने पर चर्चा की गई। राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मंत्रियों और प्रतिनिधियों ने आपदा प्रबंधन में भविष्य की चुनौतियों पर मूल्यवान जानकारी, सर्वोत्तम अभ्यास और विचार साझा किए।

 

Find More News Related to Schemes & Committees

 

PM-Kisan Scheme: Empowering Indian Farmers for a Resilient Agriculture Sector_70.1

FAQs

भारत का पहला परमाणु केंद्र कहाँ है?

तारापुर परमाणु ऊर्जा संयंत्र-1 (टीएपीएस -1) भारत का पहला परमाणु ऊर्जा संयंत्र था। यह संयंत्र बोइसर, महाराष्ट्र में स्थित है।