Home   »   दिलीप नोंगमैथेम को मणिपुरी भाषा में...

दिलीप नोंगमैथेम को मणिपुरी भाषा में बाल साहित्य पुरस्कार मिला

दिलीप नोंगमैथेम को मणिपुरी भाषा में बाल साहित्य पुरस्कार मिला_3.1

साहित्य अकादमी ने मणिपुरी भाषा के लिए युवा एवं बाल साहित्य पुरस्कारों की घोषणा की है। दिलीप नोंग्मैथेम को उनकी पुस्तक इबेम्मा अमासुंग नगाबेम्मा जो एक कहानी संग्रह है उसके लिए मणिपुरी भाषा में बाल साहित्य पुरस्कार 2023 प्रदान किया जाएगा। इस पुस्तक का चयन त्रिसदस्यीय निर्णायक मंडल ने निर्धारित चयन प्रक्रिया का पालन करते हुए नियमानुसार किया है।

वहीं वर्ष 2023 के लिए मणिपुरी भाषा का साहित्य अकादेमी युवा पुरस्कार कवि परशुराम थिंगनम की कृति मातम्गी शेइरेंग 37 (कविता संग्रह) को दिया जाएगा।पुरस्कार स्वरूप एक उत्कीर्ण ताम्रफलक तथा 50 हजार रुपए की सम्मान राशि प्रदान की जायेगी। यह पुरस्‍कार आने वाले समय में आयोजित होने वाले एक विशेष समारोह में प्रदान किए जाएँगे।

बाल साहित्य पुरस्कार: दिलीप नोंग्मैथेम को उनकी पुस्तक इबेम्मा अमासुंग नगाबेम्मा (कहानी संग्रह है) के लिए मणिपुरी भाषा में बाल साहित्य पुरस्कार 2023 दिया जाएगा। इस पुस्तक का चयन त्रिसदस्यीय निर्णायक मंडल ने निर्धारित चयन प्रक्रिया का पालन करते हुए नियमानुसार किया है। निर्णायक मंडल में डॉ. हमोम नबचंद्र सिंह, डॉ. खुन्दोंग्बम गोकुलचंद्र सिंह, प्रो. नोरेम बिद्यासागर सिंह शामिल थे।

युवा साहित्य पुरस्कार: वर्ष 2023 के लिए मणिपुरी भाषा का साहित्य अकादमी युवा पुरस्कार कवि परशुराम थिंगनम की कृति मातम्गी शेइरेंग 37 (कविता संग्रह है) को दिया जाएगा। इसके लिए बनी त्रिसदस्यीय जूरी के सदस्य में प्रो. अरुणा नहाकपम, प्रो. केएच. कुंजो सिंह, शरतचंद थियम शामिल थे।

 

Find More Awards News Here

दिलीप नोंगमैथेम को मणिपुरी भाषा में बाल साहित्य पुरस्कार मिला_4.1

FAQs

बाल साहित्य पुरस्कार क्या है?

यह भारतीय भाषाओं में 35 वर्ष और उससे कम उम्र के युवा लेखकों को सम्मानित करने के लिए 2011 में स्थापित एक वार्षिक पुरस्कार है।