Home   »   धनलक्ष्मी बैंक के बोर्ड के निदेशक...

धनलक्ष्मी बैंक के बोर्ड के निदेशक सी. के. गोपीनाथन का निधन

धनलक्ष्मी बैंक के बोर्ड के निदेशक सी. के. गोपीनाथन का निधन |_30.1

केरल स्थित धनलक्ष्मी बैंक के बोर्ड के निदेशक और एक उल्लेखनीय शेयरधारक श्री सी. के. गोपीनाथन का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है।

27 नवंबर को, केरल स्थित धनलक्ष्मी बैंक के बैंकिंग समुदाय और शेयरधारकों ने बैंक के बोर्ड के निदेशक और एक महत्वपूर्ण शेयरधारक श्री सी. के. गोपीनाथन के आकस्मिक निधन पर शोक व्यक्त किया। इस क्षति का कारण एक बड़ा दिल का दौरा बताया गया, जो बैंकिंग और वित्त क्षेत्रों में 25 वर्षों से अधिक के प्रतिष्ठित कैरियर के अंत का प्रतीक था।

प्रारम्भिक जीवन और पेशा करियर

वित्त की दुनिया में सी. के. गोपीनाथन की यात्रा दो दशक पहले शुरू हुई थी। प्रचुर अनुभव के साथ, उन्होंने उद्योग के भीतर विभिन्न क्षमताओं में अपनी छाप छोड़ी। विशेष रूप से, उन्होंने 26 सितंबर, 2008 से 20 जुलाई, 2016 तक लगभग आठ वर्षों तक कैथोलिक सीरियन बैंक में निदेशक के रूप में कार्य किया, और संस्थान पर एक अमिट प्रभाव छोड़ा।

धनलक्ष्मी बैंक में योगदान

अगस्त 2016 में धनलक्ष्मी बैंक के बोर्ड में नियुक्त, गोपीनाथन ने अपने व्यापक ज्ञान और अंतर्दृष्टि को सामने रखा। प्रमुख शेयरधारकों में से एक के रूप में, सितंबर 2023 तक 7.5 प्रतिशत हिस्सेदारी रखते हुए, उन्होंने बैंक के रणनीतिक निर्णयों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उल्लेखनीय रूप से, उनके पास बैंक के 9.99 प्रतिशत शेयर रखने का अधिकार था, जो इसके विकास के प्रति उनकी प्रतिबद्धता को रेखांकित करता है।

कॉर्पोरेट उद्यम

बैंकिंग क्षेत्र में अपनी भूमिका के अलावा, गोपीनाथन ने कई भूमिकाएँ निभाईं। उन्होंने सी. के. गोपीनाथन सुपरमार्केट लिमिटेड के निदेशक के रूप में कार्य किया और सी. के. गोपीनाथन सिक्योरिटीज एंड इन्वेस्टमेंट्स लिमिटेड में प्रबंध निदेशक का पद संभाला। उनकी विविध भागीदारी ने व्यवसाय और वित्त के प्रति उनके बहुमुखी दृष्टिकोण को प्रदर्शित किया।

प्रमुख निवेश

गोपीनाथन का प्रभाव बोर्डरूम से परे तक फैला हुआ था। वह राज्य भर की विभिन्न अग्रणी कंपनियों में एक महत्वपूर्ण निवेशक थे, जो आर्थिक परिदृश्य में उनके आत्मविश्वास और विकास को बढ़ावा देने की उनकी प्रतिबद्धता को दर्शाता है।

धनलक्ष्मी बैंक का बोर्ड

गोपीनाथन के अलावा, धनलक्ष्मी बैंक के बोर्ड में निदेशकों की एक गतिशील लाइनअप है। इसमें प्रबंध निदेशक और सीईओ शिवन जेके, आरबीआई द्वारा नियुक्त अतिरिक्त निदेशक डीके कश्यप और नागेश्वर राव, और केएन मधुसूदनन, श्रीशंकर राधाकृष्णन, निर्मला पद्मनाभन, जी राजगोपालन और वर्धिनी कल्याणरमन जैसे अन्य निदेशक शामिल थे। इस प्रतिष्ठित समूह में गोपीनाथन का योगदान अद्वितीय था।

विरासत और प्रभाव

सीके गोपीनाथन के अचानक चले जाने से न केवल धनलक्ष्मी बैंक में बल्कि व्यापक वित्तीय समुदाय में भी एक रिक्तता आ गई है। एक अनुभवी पेशेवर, चतुर निवेशक और समर्पित बोर्ड सदस्य के रूप में उनकी विरासत को आने वाले वर्षों में याद किया जाएगा। उनके रणनीतिक निर्णयों और वित्तीय कौशल का प्रभाव उन संस्थानों की दिशा को आकार देता रहेगा जिनसे वे जुड़े रहे।

परीक्षा से सम्बंधित महत्वपूर्ण प्रश्न

1. धनलक्ष्मी बैंक के बोर्ड में एक निदेशक और एक प्रमुख शेयरधारक कौन थे जिनका हाल ही में निधन हो गया?

उत्तर: सी. के. गोपीनाथन

2. सी. के. गोपीनाथन को धनलक्ष्मी बैंक के बोर्ड में कब नियुक्त किया गया?

उत्तर: अगस्त 2016

3. धनलक्ष्मी बैंक के प्रबंध निदेशक और सीईओ कौन हैं?

उत्तर: शिवन जेके

Find More Obituaries News

धनलक्ष्मी बैंक के बोर्ड के निदेशक सी. के. गोपीनाथन का निधन |_40.1

FAQs

फातिमा बीवी, जिनका हाल ही में निधन हो गया है, कौन थीं?

फातिमा बीवी, जिनका हाल ही में निधन हो गया है, सुप्रीम कोर्ट की पहली महिला जज और तमिलनाडु की पूर्व राज्यपाल थीं।

TOPICS: