Home   »   ब्लू ओरिजिन का एनएस-25 मिशन: गोपी...

ब्लू ओरिजिन का एनएस-25 मिशन: गोपी थोटाकुरा पहले भारतीय अंतरिक्ष पर्यटक बने

ब्लू ओरिजिन का एनएस-25 मिशन: गोपी थोटाकुरा पहले भारतीय अंतरिक्ष पर्यटक बने_3.1

भारतीय मूल के साइंटिस्ट गोपी थोटाकुरा ने इतिहास रच दिया है। गोपी थोटाकुरा ने अमेज़ॅन के संस्थापक जेफ बेजोस के ब्लू ओरिजिन के एनएस-25 मिशन के चालक दल के हिस्से के रूप में अंतरिक्ष में पहुंचने वाले पहले इंडियन स्पेस टूरिस्ट और दूसरे भारतीय बन गए। बता दें कि ब्लू ओरिजिन ने 19 मई को अपनी 7वीं ह्यूमन स्पेस फ्लाइट और न्यू शेपर्ड प्रोग्राम के लिए 25वीं उड़ान सफलतापूर्वक पूरी की।

इस चालक दल के पांच अन्य क्रू में एक आंध्र प्रदेश में जन्मे गोपी थोटाकुरा भी शामिल थे। गोपी थोटाकुरा के अलावा, एक्ट्रोनॉट क्रू में मेसन एंजेल, सिल्वेन चिरोन, केनेथ एल. हेस, कैरोल स्कॉलर और पूर्व वायु सेना कैप्टन एड ड्वाइट शामिल थे, जिन्हें 1961 में राष्ट्रपति जॉन एफ. कैनेडी ने देश के पहले अश्वेत अंतरिक्ष यात्री उम्मीदवार के रूप में चुना था, लेकिन उन्हें उड़ान भरने का अवसर मिला।

न्यू शेपर्ड के सदस्य (मिशन एनएस-25)

  • गोपीचंद थोटाकुरा: भारतीय मूल के एक उद्यमी और पायलट, थोटाकुरा ने एनएस-25 मिशन के लिए छह चालक दल के सदस्यों में अपना स्थान सुरक्षित किया।
  • एड ड्वाइट: वायु सेना के पूर्व विमान चालक, ड्वाइट की अंतरिक्ष यात्रा नासा के अंतरिक्ष यात्री कोर से अस्वीकृति का सामना करने के दशकों बाद हुई है। 90 साल की उम्र में उन्होंने अंतरिक्ष में सबसे उम्रदराज़ व्यक्ति का रिकॉर्ड बनाया।
  • मेसन एंजेल: इंडस्ट्रियस वेंचर्स के संस्थापक, एंजेल क्रू में उद्यमशीलता विशेषज्ञता लाते हैं।
  • सिल्वेन चिरोन: ब्रैसरी मोंट ब्लांक का नेतृत्व करने के लिए प्रसिद्ध, चिरोन दल में फ्रांस का प्रतिनिधित्व करता है।
  • केनेथ एल. हेस: एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर और उद्यमी, हेस मिशन में तकनीकी विशेषज्ञता का योगदान देता है।
  • कैरल स्कॉलर: एक सेवानिवृत्त प्रमाणित सार्वजनिक लेखाकार, स्कॉलर एनएस-25 के लिए साहसी लोगों की टोली को पूरा करता है।

ब्लू ओरिजिन के मुताबिक, ”गोपी एक पायलट और विमान चालक हैं जिन्होंने वाहन चलाने से पहले उड़ान भरना सीख लिया था।” वह हार्ट्सफील्ड-जैक्सन अटलांटा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के समीप स्थित समग्र कल्याण और व्यावहारिक स्वास्थ्य मामलों से संबंधित वैश्विक केंद्र ‘प्रिजर्व लाइफ कोर्प’ के सह-संस्थापक हैं। वह वाणिज्यिक रूप से विमान उड़ाने के अलावा एयरोबेटिक विमान और सीप्लेन के साथ ही गर्म हवा के गुब्बारे भी उड़ा चुके हैं। वह अंतरराष्ट्रीय चिकित्सा विमान पायलट के तौर पर भी काम कर चुके हैं। आंध्र प्रदेश में जन्मे थोटाकुरा ने एम्ब्री-रिडल एयरोनॉटिकल यूनिवर्सिटी से स्नातक किया है।

FAQs

ब्लू ओरिजिन कंपनी किसकी है?

जेफ बेजोस