Home   »   मंकीपॉक्स के मरीजों के लिए क्वारंटाइन...

मंकीपॉक्स के मरीजों के लिए क्वारंटाइन अनिवार्य करने वाला बेल्जियम पहला देश बना

 

मंकीपॉक्स के मरीजों के लिए क्वारंटाइन अनिवार्य करने वाला बेल्जियम पहला देश बना |_50.1

बीमारी के चार मामले सामने आने के बाद बेल्जियम मंकीपॉक्स के रोगियों के लिए 21 दिन का क्वारंटाइन अनिवार्य करने वाला पहला देश बन गया है। बेल्जियम के स्वास्थ्य अधिकारियों ने यह निर्णय लिया, सऊदी गजट ने बेल्जियम मीडिया का हवाला देते हुए बताया। बेल्जियन इंस्टीट्यूट ऑफ ट्रॉपिकल मेडिसिन ने कहा है कि देश में इसके बड़े प्रकोप का खतरा कम है।

RBI बुलेटिन – जनवरी से अप्रैल 2022, पढ़ें रिज़र्व बैंक द्वारा जनवरी से अप्रैल 2022 में ज़ारी की गई महत्वपूर्ण सूचनाएँ



 हिन्दू रिव्यू अप्रैल 2022, डाउनलोड करें मंथली हिंदू रिव्यू PDF  (Download Hindu Review PDF in Hindi)


विश्व स्वास्थ्य संगठन ने बताया कि 12 अलग-अलग देशों में मंकीपॉक्स के कुल 92 पुष्ट मामले थे, जिनमें से 28 संदिग्ध मामलों की जांच चल रही थी। सऊदी गजट की रिपोर्ट के अनुसार यूके, पुर्तगाल, स्वीडन, इटली, स्पेन, फ्रांस, बेल्जियम, जर्मनी, अमेरिका, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया में मंकीपॉक्स के मामलों की पुष्टि हुई है।


मंकीपॉक्स क्या है?

मंकीपॉक्स एक ही परिवार में चेचक के रूप में एक बीमारी है और लक्षणों में एक अलग ऊबड़ दाने, बुखार, मांसपेशियों में दर्द और सिरदर्द शामिल हैं। चेचक की तुलना में मंकीपॉक्स कम घातक है, मृत्यु दर चार प्रतिशत से कम है, लेकिन विशेषज्ञ अफ्रीका से बाहर इस बीमारी के असामान्य प्रसार को लेकर चिंतित हैं जहां यह आमतौर पर फैलता है।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण टेकअवे:

  • बेल्जियम राजधानी: ब्रुसेल्स;
  • बेल्जियम मुद्रा: यूरो;
  • बेल्जियम के प्रधान मंत्री: अलेक्जेंडर डी क्रू।

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *