Home   »   अमित शाह ने IGIA के टर्मिनल-3...

अमित शाह ने IGIA के टर्मिनल-3 पर ‘FTI-TTP’ का उद्घाटन किया

अमित शाह ने IGIA के टर्मिनल-3 पर 'FTI-TTP' का उद्घाटन किया |_3.1

केंद्रीय गृह मंत्री और सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने 22 जून को नई दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के टर्मिनल-3 पर ‘फास्ट ट्रैक इमिग्रेशन – ट्रस्टेड ट्रैवलर प्रोग्राम’ का उद्घाटन किया। इस अवसर पर केंद्रीय गृह सचिव और कई अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

भारतीय नागरिकों और ओसीआई कार्डधारकों को ‘FTI- TTP‘ का लाभ

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में, फास्ट ट्रैक इमिग्रेशन-ट्रस्टेड ट्रैवलर प्रोग्राम (एफटीआई-टीटीपी) भारत सरकार की एक दूरदर्शी पहल है, जिसे भारतीय नागरिकों और ओसीआई कार्डधारकों के लाभ के लिए सोच-समझकर तैयार किया गया है। उन्होंने कहा कि इस पहल से अन्य देशों से आने वाले भारतीय नागरिकों और ओसीआई यात्रियों को अधिक सुविधा मिलेगी। इस कार्यक्रम का शुभारंभ विकसित भारत @2047 के लिए निर्धारित प्रमुख एजेंडा में से एक है और सभी के लिए यात्रा, सुविधा और दक्षता बढ़ाने के लिए मोदी सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाता है। श्री अमित शाह ने कहा कि यह सुविधा सभी यात्रियों के लिए निःशुल्क उपलब्ध होगी।

इस कार्यक्रम का उद्देश्य

यह अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए तेज, सुगम और सुरक्षित इमिग्रेशन मंजूरी के लिए डिज़ाइन किया गया है। इस कार्यक्रम को ई-गेट्स या स्वचालित सीमा गेटों पर चलाया जाएगा जिससे आपातकालीनी पूरी की प्रक्रिया में मानव हस्तक्षेप को कम किया जा सकेगा। इस कार्यक्रम को दो चरणों में लागू किया जाएगा। पहले चरण में, भारतीय नागरिक और OCI कार्डधारकों को शामिल किया जाएगा और दूसरे चरण में विदेशी यात्रीगण शामिल किए जाएंगे। इस कार्यक्रम का उद्देश्य अंतरराष्ट्रीय यात्रा को सरल और सुरक्षित बनाना है और ई-गेट्स के माध्यम से स्क्रीन किए गए अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए त्वरित आपातकालीनी पथ से अंतरराष्ट्रीय आपातकालीनी सुविधाएँ विकसित करना।

एक ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से कार्यान्वित

FTI-TTP (फास्ट ट्रैक इमिग्रेशन – ट्रस्टेड ट्रैवलर प्रोग्राम) को एक ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से लागू किया जाएगा और इस कार्यक्रम के तहत विभिन्न श्रेणियों के यात्रियों की फास्ट ट्रैक इमिग्रेशन के लिए ब्यूरो ऑफ इमिग्रेशन नोडल एजेंसी होगी। इस योजना में नामांकन के लिए आवेदक को अपनी जानकारी और आवश्यक दस्तावेजों के साथ पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा। आवश्यक सत्यापन के बाद, ‘विश्वसनीय यात्री’ की सफेद सूची तैयार की जाएगी और इसे ई-गेट्स के माध्यम से लागू करने के लिए प्रणाली में डाला जाएगा। ई-गेट्स से गुजरने वाले ‘विश्वसनीय यात्री’ की बायोमेट्रिक्स एफआरआरओ कार्यालय में या हवाई अड्डे में पंजीकृत यात्री के गुजरने के समय को कैप्चर किए जाएंगे।

पासपोर्ट की वैधता

टीटीपी पंजीकरण पासपोर्ट की मान्यता की अवधि या 05 वर्षों तक की अवधि तक मान्य रहेगा और इसके बाद पुनः नवीनीकृत किया जाएगा। प्रक्रिया के अनुसार, जैसे ही ‘पंजीकृत यात्री’ ई-गेट्स तक पहुँचता है, वह अपना एयरलाइंस द्वारा जारी किया गया बोर्डिंग पास ई-गेट्स पर स्कैन करेगा ताकि अपनी उड़ान की विवरण जान सके। पासपोर्ट भी स्कैन किया जाएगा और यात्री की बायोमेट्रिक पहचान ई-गेट्स पर सत्यापित की जाएगी। एक बार यात्री की सही पहचान स्थापित हो जाती है और बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण किया जाता है, तो ई-गेट स्वचालित रूप से खुल जाएगा और आपातकालीनी पूरी मानी जाएगी। एफटीआई-टीटीपी को देश में 21 प्रमुख हवाई अड्डों पर लॉन्च किया जाएगा। पहले चरण में, दिल्ली हवाई अड्डे के साथ, यह मुंबई, चेन्नई, कोलकाता, बेंगलुरु, हैदराबाद, कोची और अहमदाबाद जैसे 7 प्रमुख हवाई अड्डों पर लॉन्च किया जाएगा।

अमित शाह ने IGIA के टर्मिनल-3 पर 'FTI-TTP' का उद्घाटन किया |_4.1

FAQs

केंद्रीय गृह मंत्री और सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने नई दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के टर्मिनल-3 पर 'फास्ट ट्रैक इमिग्रेशन - ट्रस्टेड ट्रैवलर प्रोग्राम' का उद्घाटन कब किया?

केंद्रीय गृह मंत्री और सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने 22 जून को नई दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के टर्मिनल-3 पर 'फास्ट ट्रैक इमिग्रेशन - ट्रस्टेड ट्रैवलर प्रोग्राम' का उद्घाटन किया।

TOPICS: