Home   »   संजय गुब्बी की पुस्तक ‘लेपर्ड डायरीज़...

संजय गुब्बी की पुस्तक ‘लेपर्ड डायरीज़ – द रोसेट इन इंडिया’

 

संजय गुब्बी की पुस्तक 'लेपर्ड डायरीज़ – द रोसेट इन इंडिया' |_50.1

वन्यजीव जीवविज्ञानी (Wildlife Biologist), संजय गुब्बी (Sanjay Gubbi) ने तेंदुए के बारे में ‘लेपर्ड डायरीज़ – द रोसेट इन इंडिया (Leopard Diaries – the Rosette in India)’ नामक एक पुस्तक लिखी, जिसमें वह तेंदुए-मानव संघर्ष को दूर करने के सुझावों के साथ-साथ भोजन की आदतों (food habits), पारिस्थितिक संदर्भ (ecological context) और तेंदुए के संरक्षण (conservation of Leopard) के बारे में कहते हैं। पुस्तक में संजय गुब्बी (Sanjay Gubbi) की एक संघर्ष प्रबंधक (conflict manager), राज्य सरकार के सलाहकार (adviser to the State government) और तेंदुए पीआर (जनसंपर्क) व्यक्ति के रूप में व्यावहारिक जुड़ाव का भी विवरण है। पुस्तक वेस्टलैंड (Westland) द्वारा प्रकाशित की गई थी।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

तेंदुआ जीनस पेंथेरा (genus Panthera) की पांच मौजूदा प्रजातियों में से एक है, जो बिल्ली परिवार, फ़ेलिडाए (Felidae) का एक सदस्य है। सरकार की रिपोर्ट के अनुसार, मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में तेंदुओं की संख्या सबसे अधिक है, जो देश में अनुमानित कुल संख्या का लगभग 26 प्रतिशत है।

लेखक के बारे में:

संजय गुब्बी (Sanjay Gubbi) एक वन्यजीव जीवविज्ञानी, वैज्ञानिक (पश्चिमी घाट) हैं, जो बाघों (tigers) और तेंदुओं (leopards) जैसे बड़े मांसाहारियों के संरक्षण पर काम कर रहे हैं। उनके काम के लिए उन्हें कई अन्य लोगों के बीच व्हिटली अवार्ड (Whitley Award) (ग्रीन ऑस्कर के रूप में लोकप्रिय) (2017) और सह-अस्तित्व पुरस्कार (Co-Existence Award) (2019) से सम्मानित किया गया।

Find More Books and Authors Here

संजय गुब्बी की पुस्तक 'लेपर्ड डायरीज़ – द रोसेट इन इंडिया' |_60.1

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *