Monday, 27 June 2022

भारत ने ओडिशा के तट से किया VL-SRSAM मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण

भारत ने ओडिशा के तट से किया VL-SRSAM मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण



ओडिशा राज्य के चांदीपुर के तट से वर्टिकल लॉन्च शॉर्ट रेंज सरफेस टू एयर मिसाइल (Vertical Launch Short Range Surface to Air Missile (VL-SRSAM)) का सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया। रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (Defence Research and Development Organization (DRDO)) और भारतीय नौसेना ने वर्टिकल लॉन्च शॉर्ट रेंज सरफेस टू एयर मिसाइल (Vertical Launch Short Range Surface to Air Missile (VL-SRSAM)) के लिए सफलतापूर्वक उड़ान परीक्षण किया। 



Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams



प्रमुख बिंदु (KEY POINTS):


  • वीएल-एसआरएसएएम, जहाज से चलने वाली हथियार प्रणाली है, जो समुद्री-स्किमिंग टारगेट सहित निकट सीमा पर हवाई खतरों को बेअसर करने में सक्षम है। सिस्टम का प्रक्षेपण एक उच्च गति वाले हवाई लक्ष्य वाले विमान के खिलाफ किया गया, जो सफलतापूर्वक लगा।
  • सिस्टम के साथ एक हवाई जहाज जैसा एक उच्च गति वाला हवाई लक्ष्य लॉन्च किया गया था, और यह प्रभावी ढंग से लगा हुआ था।
  • आईटीआर, चांदीपुर ने वाहन के उड़ान पथ और स्वास्थ्य संकेतकों को ट्रैक करने के लिए विभिन्न प्रकार के ट्रैकिंग सेंसर तैनात किए हैं। भारतीय नौसेना और डीआरडीओ के वरिष्ठ प्रतिनिधियों ने परीक्षण प्रक्षेपण पर नजर रखी।
  • रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने डीआरडीओ और भारतीय नौसेना को सफल उड़ान परीक्षण के लिए बधाई दी। कहा कि सिस्टम ने कवच जोड़ा है। यह हवाई खतरों के खिलाफ नेवी के जहाजों की रक्षा क्षमता को अधिक बढ़ाएगा।
  • नौसेना प्रमुख, एडमिरल आर हरि कुमार ने वीएल-एसआरएसएएम के सफल उड़ान परीक्षण के लिए इंडियन नेवी और डीआरडीओ की सराहना की। कहा कि इस स्वदेशी मिसाइल प्रणाली के विकास से रक्षात्मक क्षमताओं को और मजबूती मिलेगी।


सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण टेकअवे:

  • नौसेनाध्यक्ष: एडमिरल आर. हरि कुमार
  • रक्षा मंत्री: श्री राजनाथ सिंह



Find More News Related to Defence


IAF to join Egyptian Air Force in Tactical Leadership Program_70.1

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search