Thursday, 27 January 2022

भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक (सीपीआई) 2021: भारत 85वें स्थान पर

भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक (सीपीआई) 2021: भारत 85वें स्थान पर

 


ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल (Transparency International) ने भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक (Corruption Perceptions Index - CPI) 2021 जारी किया है जिसमें भारत 85वें स्थान (40 का स्कोर) पर है। रैंकिंग में तीन देशों- डेनमार्क, फिनलैंड और न्यूजीलैंड (88 का स्कोर) ने संयुक्त रूप से शीर्ष स्थान हासिल किया है। यह रैंकिंग मापती है कि प्रत्येक देश के सार्वजनिक क्षेत्र को कितना भ्रष्ट माना जाता है। परिणाम 0 (अत्यधिक भ्रष्ट) से 100 (बहुत साफ) के पैमाने पर दिए गए हैं। इसमें 180 देशों को स्थान दिया गया है।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

हिन्दू रिव्यू दिसम्बर 2021, Download Monthly Hindu Review PDF in Hindi


पिछले साल (2020 के लिए) भारत 40 के स्कोर के साथ 86वें स्थान पर था। इस साल के भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक (सीपीआई) से पता चलता है कि भ्रष्टाचार का स्तर दुनिया भर में स्थिर है। वैश्विक औसत लगातार दसवें वर्ष अपरिवर्तित रहा, 100 में से केवल 43 अंक।


भारत के रैंक डिफरेंट इंडेक्स 2021-22 की सूची:

  • ग्लोबल ड्रग पॉलिसी इंडेक्स 2021: 18वां
  • जलवायु परिवर्तन प्रदर्शन सूचकांक 2022: 10वां
  • 2021 ट्रेस वैश्विक रिश्वत जोखिम रैंकिंग: 82वां
  • वर्ल्ड टैलेंट रैंकिंग रिपोर्ट 2021: 56वां 
  • वैश्विक स्वास्थ्य सुरक्षा सूचकांक 2021: 66वां
  • 5वीं Truecaller की ग्लोबल स्पैम और स्कैम रिपोर्ट 2021: 4वां
  • हुरुन का ग्लोबल यूनिकॉर्न इंडेक्स 2021: तीसरा
  • "2019 डोपिंग रोधी नियम उल्लंघन (ADRVs) रिपोर्ट: तीसरा"
  • हेनले पासपोर्ट इंडेक्स 2022: 83वां


Find More Ranks and Reports Here

NITI Aayog & RMI India releases report 'Banking on Electric Vehicles in India'_90.1

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search